City/कचरे के ढेर पर राजधानी…

जयपुर। पर्यटक पीक सीजन से राजधानी पर्यटकों से गुलजार हो रखी है वहीं इन दिनों शहर की पॉश कॉलोनी समेत बाहरी व अंदरूनी हिस्से के कौणे-कौणे व मुख्य चौराहे पर भी सफाई मुकम्मल नहीं हो रही है। जिस कारण से किसी भी सड़क-मोहल्ले का रुख करे वहीं कचरे के ढेर नजर आ रहे है।

0
14

City/जयपुर। पर्यटक पीक सीजन से राजधानी पर्यटकों से गुलजार हो रखी है वहीं इन दिनों शहर की पॉश कॉलोनी समेत बाहरी व अंदरूनी हिस्से के कौणे-कौणे व मुख्य चौराहे पर भी सफाई मुकम्मल नहीं हो रही है। जिस कारण से किसी भी सड़क-मोहल्ले का रुख करे वहीं कचरे के ढेर नजर आ रहे है। इसके अलावा वहीं अवारा पशुओं द्वारा उक्त कचरे के ढेर में मुंह मार उसे इधर-उधर फैला भी रहे हैं।

राजधानी से कचरे के उठाव की नगर निगम के दावों की पोल खोलती जा रही है। स्वच्छता सर्वेक्षण अभियान में नम्बर लेने के लिये पूरे संसाधन नगर निगम ने झोंक दिये, अब डोर-टू-डोर कचरा उठाने वाली कंपनी ने कचरा उठाना बंद कर दिया है, पूरे जयपुर में जगह-जगह कचरे के ढेर लगे हुये हैं, स्वाईन फ्लू और डेंगू जैसी बीमारियां फैल रही है लेकिन उसके बाद भी शहर में लगे कचरे के अम्बार का सुध लेने वाला कोई नहीं है।

स्वच्छता सर्वेक्षण अभियान 4 जनवरी 2019 से शुरू होने जा रहा है। लेकिन जिस तरह से शहर में जगह- जगह जिस तरह से कचरे के ढेर लगे हुए है तो हो लिया स्वच्छता सर्वेक्षण अभियान।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here