गणेश मंदिर में लगा 1000 मोदकों का भोग

जयपुर । पुष्य नक्षत्र के अवसर पर प्रसिद्ध मोती डूंगरी गणेश मंदिर में गणेश जी का पंचामृत अभिषेक किया गया। मोती डूंगरी महंत ने गणेश जी का दूध से अभिषेक करने के बाद गंगाजल से स्नान कराया। स्नान के बाद गणेश जी को 1000 मोदक का भोग लगाया गया।

0
101
ganesh
ganesh

जयपुर । पुष्य नक्षत्र के अवसर पर प्रसिद्ध मोती डूंगरी गणेश मंदिर में गणेश जी का पंचामृत अभिषेक किया गया।
मोती डूंगरी महंत ने गणेश जी का दूध से अभिषेक करने के बाद गंगाजल से स्नान कराया। स्नान के बाद गणेश जी को 1000 मोदक का भोग लगाया गया।

महंत कैलाश शर्मा ने बताया कि पुष्य नक्षत्र के अवसर पर हर बार गणेश जी का पंचामृत अभिषेक किया गया और इस बार भी पुष्य नक्षत्र पर गणेश जी का पंचामृत अभिषेक किया गया, जिसमें 251 किलो दूध, 21 किलो दही, 21 किलो बूरा, सवा 5 किलो घी शहद केवड़ा जल इत्र के साथ भगवान गणेश जी का अभिषेक किया गया। अभिषेक के दौरान मंदिर में सैंकड़ों की तादाद में भक्त मौजूद रहे।

दर्शन के लिए महिलाओं और पुरुषों की सुबह से ही लाइन नजर आई। कई लोग नई गाड़ियों के साथ गणेश जी के मंदिर पहुंचे और पूजा कराई। इस अवसर पर काफी संख्या में लोग शादी में गणेश जी को निमंत्रण देने भी पहुंचे। गणेश जी की आरती कर भक्तों को रक्षा सूत्र वितरित किए गए।

शाम को गणेश जी को फूल बंगले में विराजमान किया जाएगा। इस विशेष अवसर पर शहर के गढगणेश मंदिर, मोतीडूंगरी गणेश मंदिर, नहर के गणेश जी , श्वेत सिद्धि विनायक मन्दिर, ध्वाजाधीश गणेश , परकोटे वाले गणेश मन्दिर सहित गणेश विभिन्न मंदिरों में पंचामृत अभिषेक व विशेष श्रंगार सहित कई धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here