अंतरराष्ट्रीय स्तर पर छटा बिखेरेंगे राजस्थान के पारंपरिक परिधान

जयपुर। राजस्थान के पारंपरिक परिधान अब विदेशियों को लुभाने लगे हैं। खासकर हैंडमेड राजस्थानी वस्त्रों की मांग अमेरिका व कनाडा में लगातार बढ़ रही है। भारत में ट्रेडिशनल तरीके से निर्मित परिधानों को इंटरनेशनल स्तर तक पहुंचाने के उदेश्य से विश्व विख्यात फैशन ग्लोबल लीडर पीटर नायगार्ड ने मंगलवार को जयपुर की विजिट की।

0
106
Global Fashion Leader Peter Niegard
Global Fashion Leader Peter Niegard

जयपुर। राजस्थान के पारंपरिक परिधान अब विदेशियों को लुभाने लगे हैं। खासकर हैंडमेड राजस्थानी वस्त्रों की मांग अमेरिका व कनाडा में लगातार बढ़ रही है। भारत में ट्रेडिशनल तरीके से निर्मित परिधानों को इंटरनेशनल स्तर तक पहुंचाने के उदेश्य से विश्व विख्यात फैशन ग्लोबल लीडर पीटर नायगार्ड ने मंगलवार को जयपुर की विजिट की।

निजी विमान से अपने डिजाइनर्ज व मैनेजर्स की टीम के साथ पीटर नायगार्ड मानसरोवर इंडस्ट्रीयल एरिया में स्थित ‘आर्ट एंड क्राफ्ट्स एक्सक्लूसिव्स’ पहुंचे। इस दौरान उनका ‘आर्ट एंड क्राफ्ट्स एक्सक्लूसिव्स’ के फांउडर एवं चैयरमेन अनिल शर्मा व उनकी टीम ने राजस्थानी रीति रिवाज से स्वागत किया। इसके बाद पीटर नायगार्ड ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि राजस्थानी ही नहीं बल्कि गुजराती ट्रेडिशनल परिधानों को मॉडर्न लुक देकर विदेशों में बेचा जा सकता है।

भारत के ट्रेडिशनल परिधानों की विदेशों में बहुत डिमांड है। उन्होंने कहा कि खासकर राजस्थानी परिधानों में जो हैंडवर्क किया जाता है उसे कनाडा व अमेरिका की महिला वर्ग में बहुत अधिक मांग है। उन्होंने खुलासा किया कि ‘आर्ट एंड क्राफ्ट्स एक्सक्लूसिव्स’ के साथ एक अनुबंध के तहत उनकी कंपनी नायगार्ड इंटरनेशनल कनाडाई फैशन बाजार में नए लुक के साथ राजस्थानी परिधान ग्राहकों को उपलब्ध करायेगी।

अनिल शर्मा ने बताया कि अमेरिका व कनाडा में रायपुर की पत्ती के वर्क, लखनऊ के चिकन वर्क, गुजरात के कच्छ की एम्ब्रोडरी, राजस्थान के कांता, एपलिक, पैच वर्क व अड्डे के वर्क के मॉडर्न गारमेंट की डिमांड बढऩे की वजह से विदेशी मुद्रा गांवों तक पहुंचेगी। उन्होंने बताया कि ट्रेडिशनल वर्क में रोजगार की संभावनाएं लगातार बढ़ रही हैं।

शर्मा ने बताया कि ‘आर्ट एंड क्राफ्ट्स एक्सक्लूसिव्स’ ने नायगार्ड से वस्त्र व्यापार में सहभागिता पर चर्चा की है। विश्व प्रसिद्ध फैशन डिजाइनर पीटर नायगार्ड व उनकी टीम को गुजराती, राजस्थानी परिधानों के मॉडर्न गारमेंट्स बहुत पसंद आए हैं। पीटर नायगार्ड की कंपनी राजस्थानी परिधानों के मॉर्डन गारमेंट्स की मांग व आपूर्ति में लगातार इजाफा कर रही है।

राजस्थानी परिधानों को विश्व पटल पर शोकेज करने उदेश्य से ही पीटर नायगार्ड जयपुर विजिट के लिए पहुंचे हैं। गौरतलब है कि पश्चिमी फैशन उद्योग को दिए अपने असाधारण योगदान के लिए पीटर नायगार्ड को समय-समय पर अनेक प्रतिष्ठित पुरस्कारों से नवाजा जा चुका है।

इन्हें सीऑक्स अवॉर्ड, आउट्स्टेंडिंग कनेडीयन डिस्टिंक्शन, कोमेमोरेटिव गोल्ड मेडल, द रॉयल मिलिट्री इन्स्टीट्यूट अवॉर्ड, पेट्रीयट अवॉर्ड, सिटी ऑफ टोरंटो अवॉर्ड तथा क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय गोल्डन जुबली मेडल से सम्मानित किया जा चुका है। पीटर नायगार्ड मनीतोबा फैशन इंस्टीट्यूट के संस्थापक भी हैं और 1968 से कार्यकारी सदस्य रहे हैं।

वहीं, जयपुर स्थित आर्ट एंड क्राफ्ट एक्सक्लूसिव्स कंपनी एक मान्यता प्राप्त वस्त्र निर्यातक जो कि वैश्विक स्तर पर काम कर रही है। इस मौके पर आर्ट एंड क्राफ्ट एक्सक्लूसिव्स के प्रेजिडेंट (ऑप्रेशन्स) प्रतीक सनाढ्य, कंपनी की वाइस प्रेजिडेंट (डिजाइन) अनुश्रुति सनाढ्य आदि ने आर्ट एंड क्राफ्ट एक्सक्लूसिव्स द्वारा पेश डिजाइन्स की बारीकियां बताई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here