July 15, 2024, 7:18 am
spot_imgspot_img

आय से अधिक सम्पति के मामले में एसीबी ने आईएएस के घर और कार्यालय में मारी रेड

जयपुर। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) मुख्यालय की इंटेलिजेंस जयपुर टीम की ओर से शुक्रवार को सहकारिता विभाग जयपुर (IAS) रजिस्ट्रार मेघराज सिंह रत्नू एवं उनकी पत्नी मंजुला रत्नू व अन्य के विरुद्ध आय से अधिक संपत्ति के मामले में प्रकरण दर्ज कर जयपुर, अजमेर, श्रीगंगानगर, जैसलमेर और सीकर में सर्च ऑपरेशन किया जा रहा है।

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के अतिरिक्त महानिदेशक हेमन्त प्रियदर्शी (Additional Director General of Anti-Corruption Bureau, Hemant Priyadarshi ) ने बताया कि एसीबी इंटेलिजेंस जयपुर टीम के नेतृत्व में आय से अधिक सम्पत्ति के मामले में सहकारिता विभाग जयपुर रजिस्ट्रार मेघराज सिंह रत्नू (Cooperative Department Jaipur Registrar Meghraj Singh Ratnu ) के निवास पर किये जा रहे तलाशी अभियान के दौरान मेघराज सिंह रत्नू के नाम से प्लॉट नम्बर 22 शास्त्री नगर हाउसिंग स्किम अजमेर श्रेत्रफल 600 वर्गगज, प्लॉट नम्बर 64 महालक्ष्मी नगर अजमेर रोड़ जयपुर, क्षेत्रफल 422 वर्गगज, प्लॉट नम्बर एदृ6 शिव शक्ति नगर जगतपुरा जयपुर, क्षेत्रफल 1020 वर्गगज, प्लॉट एफ-35 शिव ऑफिसर कॉलोनी, 500 वर्गगज, श्री सालासर ओवरसीज प्रा. लि. की बालाजी बलेसिंग की अजमेर रोड़ पर भूखण्ड़ सख्या 8 डी, क्षेत्रफल 904.16 वर्गगज का पट्टा होना पाया गया।

इसके अलावा उनकी पत्नी मंजूला रत्नू के नाम से प्लॉट नम्बर 65, महालक्ष्मी नगर अजमेर रोड़ जयपुर में क्षेत्रफल 422 वर्गगज, फ्लेट नम्बर सी – 402 त्रिमूर्ती कॉम्पलेक्स मालवीय नगर जयपुर क्षेत्रफल 1242 वर्गफीट, फ्लेट नम्बर सी-403 त्रिमूर्ती कॉम्पलेक्स मालवीय नगर जयपुर,क्षेत्रफल 1242 वर्गफीट होना पाया गया। साथ ही उनकी पुत्री माहीजा रत्नू के नाम से प्लॉट नम्बर 63, महालक्ष्मी नगर अजमेर रोड़ जयपुर, क्षेत्रफल 422 वर्गगज का होना पाया गया। साथ ही मेघराज सिंह रत्नू के भांजे महिपाल सिंह के नाम पर बालाजी बलेसिंग – 3 अजमेर रोड़ पर भूखण्ड संख्या 14 क्षेत्रफल 500 का पटट्टा, भांजे महिपाल सिंह एव उसकी पत्नी मनीषा बारेठ के नाम से बालाजी बलेसिंग – 3 अजमेर रोड़ पर भूखण्ड संख्या 07 डी क्षेत्रफल 550 वर्गगज एवं भूखण्ड संख्या 13 क्षेत्रफल 500 वर्गगज का पटा पाया गया ।

वहीं तलाशी में नकद राशि 6 लाख 2 हजार 210 रुपये व सोने चांदी के जेवरात, एसबीआई, एचडीएफसी, एयू स्मॉल बैंक में 4 लॉकर जिनकी सर्च की जानी है। आईएएस मेघराज रत्नू एंव परिवार वालो के विभिन्न बैंकों में कई खाते, मकान पर तीन वाहन फोर्ड एंडेवर, हुंडई आई – 10, मारुति एसएक्स – 4, श्री रत्नू के पुत्र मिहिर रत्नू के महात्मा गांधी मेडिकल कॉलेज में मेडिकल सीट पर अध्ययन में करीब 50 लाख रुपये के भुगतान संबंधी दस्तावेज भी पाए गये।

एसीबी की टीम ने नेहरू सहकार भवन स्थित आईएएस मेघराज सिंह रत्नू के कार्यालय कक्ष की तलाशी के दौरान निजी पत्रावली, भारतीय जीवन बीमा निगम की पॉलिसी की रसीद,बिजली का बिल, चार संदिग्ध डायरियां व एक पेन ड्राइव और मेघराज सिंह के नाम से एसबीआई बैंक की चेक की फोटो प्रति आदि प्राप्त हुए है। विश्वसत सूत्रो से एसीबी को सूचित किया गया है कि संदिग्ध अधिकारी ने अपनी पुत्री की शिक्षा पर करीब 60 लाख रूपये और पुत्री की शादी पर लगभग 1 करोड़ 50 लाख रूपये का व्यय किया है। आईएएस रत्नू ने अपने सेवाकाल में विदेश यात्राएं करना, जयपुर क्लब व रामबाग गोल्फ क्लब में सदस्यता मूल्यवान परिसम्पतियों के दस्तावेज आदि मिलने की भी संभावना है। एसीबी की टीमों की ओर से जयपुर सहित अन्य ठिकानों पर सर्च जारी है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles