July 16, 2024, 12:13 am
spot_imgspot_img

Adarsh Nagar Dussehra Festival: जय श्री राम के उद्घोष के साथ हुआ रावण दहन

जयपुर। राजधानी जयपुर में  मंगलवार  को विशाल दशहरा महोत्सव आदर्श नगर में आयोजित हुआ। श्री राम मंदिर प्रन्यास ,श्री सनातन धर्म सभा के तत्वावधान में प्रदेश का सबसे विशाल दशहरा महोत्सव स्थानीय आदर्श नगर के दशहरा मैदान में मंगलवार  को आयोजित हुआ। सभा के महामंत्री इंद्र कुमार चड्ढा ने बताया कि इस बार रावण का विशालकाय पुतला 105 फीट का और कुंभकर्ण 90 फीट का था।

अध्यक्ष शिवदत्त विरमानी ने बताया कि सभा के द्वारा सन 1956 से दशहरा महोत्सव मनाया जा रहा है ।कार्यक्रम के मुख्य अतिथि  रामचरण बोहरा रहे। विशिष्ट अतिथि राजीव अरोड़ा ,कालीचरण सराफ,रफीक खान थे। विशेष आमंत्रित  अशोक परनामी , सरदार अजय पाल सिंह थे ।क्षेत्रीय पार्षद स्वाति परनामी ,नीरज अग्रवाल और महेश कलवाणी भी कार्यक्रम में पहुंचे।

संयोजक राजीव मनचंदा ने बताया कि इस बार रोशन मोटर्स के सौजन्य से विशेष आतिशबाजी का आयोजन किया गया था ।जैसे ही आतिश बाजी आरंभ हुई । उपस्थित जन समुदाय ने जय श्री राम का उद्घोष किया। नियाग्रा फॉल के  जैसा नज़ारा दिखा  । रंगीन झरने बहने लगे । सावन भादो में जैसे आसमान से पानी की बूंदें बरसती हैं ऐसे ही आतिश बाज़ी की छोटी छोटी बूंदें बरसने लगीं ।

आसमान में स्टार वार जैसा नज़ारा दिखा  । फलक  से अशर्फियां बरसने लगी ,ज़मीन से सुनहरी अनार रहे थे  ।बीच बीच में धूमकेतु जैसा नज़ारा दृष्टि गोचर हो रहा था   ।हवाई मछलियां आकाश पर पूर्व से पश्चिम और उत्तर से दक्षिण भाग रहीं थीं।।कहीं कहीं आसमानी आक्टोपस रंगीनियां बिखेर रहे थे ।

ज़मीन से लाल ,हरी ,नीली, पीली हवाइयां छूटने लगीं तो आसमान का नज़ारा  रंगीन हो उठा ।उपस्थित जन समुदाय प्रसन्नता से चहक उठा ।रावण दहन के समय रावण की आंखों से शोले और मुंह से आग के गोले निकल रहे थे ।रावण की नाभि और सर  से अग्नि चक्र चलने लगा  ।रावण की  तलवार से सुनहरी चिंगारियां निकलने लगीं।लाखों लोग इस रावण दहन के कार्यक्रम को देखने जुटे। 

उपाध्यक्ष अनिल खुराना ने बताया कि मध्यान्ह तीन बजे श्री राम मंदिर से शोभायात्रा आरंभ हुई ।जिसमें लवाजमें के साथ भगवान राम और लक्ष्मण के स्वरूप विराज मान थे । एक झांकी शिव दर्शन लीला  , अन्य झांकी में भरत मिलाप ,केवट द्वारा भगवान को गंगा पार आकर्षित कर रही थी। महेंद्र बैंड भक्ति संगीत की स्वर लहरियां बिखेरते चल रहा था। 

सह संयोजक रवि सचदेवा ने बताया कि शोभायात्रा राम मंदिर से पंचवटी सर्किल ,राजापार्क चौराहा , ध्रुव मार्ग,श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर,श्री कृष्ण परनामी मंदिर,श्री कृष्णा मंदिर , बीस दुकान ,स्वामी नंदराम मंदिर ,स्वामी गंगादास मंदिर ,बर्फ खाना ,मामा की होटल,पुलिया नंबर 1 से होती वापिस दशहरा मैदान पहुंची ।रास्ते में व्यापार मंडलों ने  शोभायात्रा का स्वागत किया।

कोषाध्यक्ष केशव बेदी ने बताया कि रावण दहन के पश्चात भगवान राम का राज तिलक श्री राम मंदिर में हुआ। मीडिया प्रभारी तुलसी संगतानी ने बताया कि बच्चों के लिए झूले और खाने पीने की स्टॉल्स मेला स्थल पर थीं। 

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles