पशुओं को पकड़ने गए निगम कर्मचारियों पर हमला, मारपीट कर छुडा ले गए पशु

जयपुर। हाई कोर्ट के निर्देश पर अवैध डेयरी के खिलाफ कार्रवाई करने और आवारा पशुओं को पकड़ने गए नगर निगम दस्ते के साथ मारपीट कर आवारा पशुओं को छुड़ाने का मामला सामने आया है।

0
21
crime
crime

जयपुर। हाई कोर्ट के निर्देश पर अवैध डेयरी के खिलाफ कार्रवाई करने और आवारा पशुओं को पकड़ने गए नगर निगम दस्ते के साथ मारपीट कर आवारा पशुओं को छुड़ाने का मामला सामने आया है। जानकारी के अनुसार बुधवार को टोंक रोड पर खंडाका हॉस्पिटल के पीछे गुर्जर बस्ती में आवारा पशुओं को पकड़ने के लिए गए नगर निगम के दस्ते के साथ स्थानीय लोगों ने मारपीट कर दी और आठ आवारा पशुओं को छुड़ा ले गए । इस संबंध में पशु प्रबंधन शाखा के पशुधन निरीक्षक राकेश गुप्ता ने बजाज नगर थाने में मामला दर्ज करवाया है।

थाना प्रभारी मानवेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि नगर निगम की पशु प्रबंधन शाखा के पशुधन निरीक्षक राकेश गुप्ता अपने जाब्ते के साथ बुधवार को सुबह खंडाका अस्पताल के पीछे गुर्जर बस्ती में आवारा पशुओं को पकड़ने के लिए गए थे। निगम के दस्ते ने आवारा पशुओं को पकड़ कर अपने वाहन में बैठा लिया। तभी अचानक गुर्जर बस्ती के लोगों ने नगर निगम के दस्ते पर हमला बोल दिया और मारपीट कर पकड़े गए आठ आवारा पशुओं को छुड़ा लिया।

इस संबंध में राकेश गुप्ता की तरफ से मामला दर्ज करवाया गया है। एफआईआर में मारपीट करने वाले गोपाल गुर्जर और मुकेश गुर्जर को नामजद करते हुए करीब 25 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। वहीं पशुधन निरीक्षक राकेश गुप्ता ने बताया कि आवारा पशुओं को पकड़ने के बाद गुर्जर बस्ती के लोगों ने अचानक पूरे दस्ते पर हमला बोल दिया और मारपीट कर जबरन आठ आवारा पशुओं को छुड़ा ले गए।

पशुधन निरीक्षक राकेश गुप्ता का आरोप है कि इस संबंध में नगर निगम के पशु प्रबंधन शाखा के उपायुक्त भोमाराम सैनी को सूचना दी गई ,लेकिन भोमाराम सैनी मौके पर नहीं पहुंचे और टालमटोल करते रहे। बाद में करीब 2 घंटे बाद भोमाराम सैनी बजाज नगर थाने पहुंचे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here