लोकसभा चुनाव के लिए जयपुर जिले में मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन

जयपुर। जयपुर जिले में आगामी लोकसभा आम चुनाव के लिए मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन कर दिया गया है। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं जिला कलक्टर श्री जगरूप सिंह यादव ने शुक्रवार को जिला कलेक्ट्रेट में मीडियाकर्मियों से बाचतीत करते हुए बताया कि एक जनवरी 2019 की अर्हता के आधार पर 22 फरवरी को किए गए अंतिम प्रकाशन में 46 लाख 62 हजार 969 मतदाता शामिल है।

0
27
Assembly Elections 2018
Assembly Elections 2018

जयपुर। जयपुर जिले में आगामी लोकसभा आम चुनाव के लिए मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन कर दिया गया है। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं जिला कलक्टर श्री जगरूप सिंह यादव ने शुक्रवार को जिला कलेक्ट्रेट में मीडियाकर्मियों से बाचतीत करते हुए बताया कि एक जनवरी 2019 की अर्हता के आधार पर 22 फरवरी को किए गए अंतिम प्रकाशन में 46 लाख 62 हजार 969 मतदाता शामिल है।

यादव ने बताया कि इससे पूर्व में 26 दिसम्बर 2018 को जयपुर जिले की मतदाता सूचियों के प्रारूप का प्रकाशन किया गया था। उसमें कुल 45 लाख 83 हजार 995 मतदाता पंजीकृृत थे और मतदाता सूची में लिंगानुपात 904 था। अब मतदाता सूचियों के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के बाद हुए अंतिम प्रकाशन (22 फरवरी 2019) के अनुसार जिले में मतदाताओं की संख्या 46 लाख 62 हजार 969 हो गई है, इनमें 24 लाख 47 हजार 996 पुरूष एवं 22 लाख 14 हजार 973 महिला मतदाता शामिल है, लिंगानुपात अब बढ़कर 905 हो गया है।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जिले में विषेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम में कुल एक लाख 34 हजार 281 मतदाताओं के नाम जोडे गयें एवं 55 हजार 307 मतदाओं के नाम हटाए गये। इस प्रकार 22 फरवरी को प्रकाषित मतदाता सूचियों में कुल मतदाताओं की संख्या 46 लाख 62 हजार 969 है, जो 26 दिसम्बर 2018 को प्रकाशित प्रारूप से 78 हजार 974 अधिक है। इस प्रकार विषेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के दौरान मतदाताओं की संख्या में 1.72 प्रतिषत की वृृद्धि हुई है।

यादव ने बताया कि जिले की एक जनवरी 2019 को अनुमानित जनसंख्या 78 लाख 81 हजार 925 है, जिसमें 41 लाख 3 हजार 544 पुरूष एवं 37 लाख 78 हजार 380 महिलाएं है। इस प्रकार अंतिम प्रकाशन में पंजीकृत मतदाताओं की संख्या 46 लाख 62 हजार 969 के आधार पर ईपी अनुपात (इलेक्टोरल-पोपुलेशन रेसियोः जनसंख्या-मतदाता अनुपात) 592 है। प्रारूप प्रकाशन में ईपी अनुपात 582 था, जिसमें विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के बाद 10 अंकों की वृद्धि हुई है।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जिले में शत प्रतिषत ‘एपिक‘ (इलैकटोरल फोटो आईडेन्टी कार्ड) कवरेज है। मतदान केन्द्रों की संख्या 4 हजार 636 है, जिनमें से 2075 शहरी व 2561 ग्रामीण क्षेत्र में स्थित है।

मतदाता सूचियों का पुनरीक्षण कार्यक्रम

जयपुर जिले में भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार 01 जनवरी, 2019 की अर्हता के सन्दर्भ में मतदाता सूचियों का पुनरीक्षण कार्यक्रम 26 दिसम्बर 2018 से 25 जनवरी 2019 तक चलाया गया। इसी क्रम में लोकसभा आम चुनाव 2019 के लिए मतदाता सूचियों के अन्तिम प्रकाशन के लिए आयोग द्वारा निर्धारित कार्यक्रम के तहत आज शुक्रवार, 22 फरवरी 2019 को मतदाता सूची का अन्तिम प्रकाशन जिले के सभी विधानसभा क्षेत्रों के ईआरओ स्तर से मतदान केन्द्रों पर करा दिया गया है।

सात दिन तक मतदान केन्द्रों पर उपलब्ध रहेगी सूचियां

अंतिम प्रकाशन की यह सूची जिले के प्रत्येक मतदान केन्द्र पर 7 दिन तक उपलब्ध रहेगी/प्रकाशित की जावेगी। इस अन्तिम रूप से प्रकाशित मतदाता सूची के पश्चात निरन्तर अद्यतन की प्रक्रिया प्रारम्भ रहेगी। इस प्रक्रिया के बारे में मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों को आज हुई बैठक में अवगत कराया गया है।

मतदाता सत्यापन और सूचना कार्यक्रम 02 एवं 03 मार्च को

जिले में मतदाता सत्यापन और सूचना कार्यक्रम के तहत 02 व 03 मार्च 2019 को मतदान केन्द्रों पर विशेष अभियान भी चलाया जाएगा। इसमें अर्हता दिनांक 01 जनवरी, 2019 को ऐसे पात्र व्यक्ति जिन्होने मतदाता सूची में अपना पंजीयन नहीं कराया गया है अथवा पंजीकृत प्रविष्टियों में किसी प्रकार का संशोधन चाहते हैं तो वे इन तिथियों में मतदान केन्द्र पर उपस्थित होकर बूथ लेवल अधिकारी से प्रातः 9ः00 बजे से सांय 6ः00 बजे के बीच सम्पर्क कर सकते है। सभी ईआरओ स्तर से इस अभियान की तिथियों से पूर्व मतदान केन्द्र पर नियुक्त बीएलओ को समुचित मात्रा में सभी प्रकार के फॉर्म की उपलब्धता सुनिश्चित करते हुए अभियान की सूचना भी आम नागरिकों के सूचनार्थ बूथों पर चस्पा कराने के निर्देश दिए गए है।

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा मतदाता सत्यापन और सूचना कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया है। आयोग द्वारा अन्तिम रूप से प्रकाशित मतदाता सूची में नाम जोड़ने/पंजीकरण करने के लिए छटैच् पोर्टल, मोबाईल एप एवं कॉल सेन्टर नम्बर-1950 के माध्यम से सुविधाएं प्रारम्भ की गई है। कॉल सेन्टर पर कॉल करने के लिए कोई भी व्यक्ति अपने मोबाईल से सीधे 1950 डायल करेगा तो उसकी कॉल सीधे जिला कॉल सेन्टर से कनेक्ट हो जायेगी। कॉल सेन्टर के कर्मियों द्वारा नाम जोड़ने/पंजीकरण करने के संबंध मे चाही गयी जानकारी सम्बंधित व्यक्ति को प्रदान की जाती है।

NVSP पोर्टल (वेबसाईट) www.nvsp.inwww.nvsp.in पर विजिट कर कोई भी व्यक्ति मतदाता सूची में अपना नाम जांच कर सकता है। साथ ही मतदाता सूची में नाम जोड़ने/संशोधन/विलोपन के लिए ऑन लाईन आवेदन किया जा सकता है। इसके माध्यम से ऑनलाईन आवेदन की स्थिति भी देख सकते है।

भारत निर्वाचन आयोग की वोटर हेल्पलाईन, मोबाईल एप के माध्यम से भी ऑनलाईन आवेदन, सामान्य जानकारी, षिकायत दर्ज कराना तथा चुनाव परिणाम देखना आदि कार्य कर सकते है। इस मोबाईल एप को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है।

जिला स्तर पर कॉल सेन्टर 1950 की सेवाएं भी प्रारंभ कर दी गई है, ये कॉल सेंटर प्रातः 09.00 से रात्रि 09.00 बजे तक सुचारू रूप से कार्यरत है। कॉल सेन्टर की सहायता से मतदाता सूचियों से संबंधित सामान्य जानकारी एवं निर्वाचन विभाग द्वारा समय-समय पर चलाये जाने अभियानों की जानकारी प्राप्त की जा सकती है। साथ ही मतदाता सूची अथवा वोटर आईडी से संबंधित शिकायत भी दर्ज कराई जा सकती है। कॉल सेन्टर पर आने वाले सभी कॉल का विवरण एक रजिस्टर मे दर्ज किया जाता है। जिला मुख्यालय पर स्थापित कॉल सेन्टर 1950 पर आने वाले टेलीफोन कॉल्स पर आम नागरिकों को विशेष कार्यक्रम की जानकारी भी दी जाती है। जयपुर जिले में आदिनांक तक कॉल सेन्टर पर ढाई हजार से अधिक कॉल आई है, जिनमें मतदाता सूची में नाम जुड़वाने की प्रक्र्रिया अथवा मतदाता पहचान पत्र बनने की स्थिति इत्यादि के बारे में सामान्य जानकारी प्राप्त करने जैसे कॉल शामिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here