July 19, 2024, 7:46 pm
spot_imgspot_img

राजस्थान मिशन 2030 सेंसेटाइजेशन कार्यशाला का हुआ आयोजन

जयपुर। भीलवाड़ा डेयरी की 33 वीं आमसभा की बैठक का आयोजन गुरूवार को निम्बाराम गुर्जर की अध्यक्षता में डेयरी परिसर में किया गया। बैठक में 887 समितियों के अध्यक्षों के साथ आरसीडीएफ प्रतिनिधी, प्रबन्धक, मनीष कुमावत, मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद,श्री मोहनलाल खटनावलिया, उप रजिस्ट्रार सहकारी समितियों सहित डेयरी के अधिकारीगण व अन्य अधिकारी/कर्मचारियों ने भाग लिया ।

आमसभा कार्यवाही के उपरान्त राजस्थान मिशन 2030 सेंसेटाइजेशन कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में उपस्थित 887 दुग्ध समितियों के अध्यक्षों एवं 925 सचिवों व पशुपालकों ने भाग लिया। इस अवसर पर दुग्ध संघ द्वारा दुग्ध संकलन मात्रा, गुणवत्ता एवं विपणन कार्यों से जुड़े विभिन्न वर्गों में श्रेष्ठ प्रदर्शनकर्ता दुग्ध संघ क्षेत्र के दुग्ध उत्पादकों, दुग्ध समितियों, भामाशाह, बूथ एजेन्ट्स को पारितोषिक प्रदान कर प्रोत्साहित किया गया।

कार्यशाला के दौरान राजस्व मंत्री रामलाल जाट ने उपस्थित प्रतिभागियों को सम्बोधित करते हुए राजस्थान मिशन 2030 के संबंध में विस्तार से जानकारी दी और बताया कि राज्य सरकार ने कुशल वित्तीय प्रबंधन कर जनकल्याणकारी योजनाओं से हर व्यक्ति को लाभान्वित किया है। अब राजस्थान को देश के अग्रणी राज्यों में लाने के लिए राज्य सरकार ने मिशन 2030 का लक्ष्य निर्धारित किया है।

इसके लिए मिशन 2030 की मुहिम चलाकर अर्थशास्त्रियों, लेखकों, विद्यार्थियों, सरकारी कर्मचारियों, अधिवक्ताओं, किसानों, मजदूरों, महिलाओं, युवाओं, बुद्विजीवियों, खिलाड़ियों सहित समस्त प्रदेशवासियों से सुझाव लिये जा रहे है। राज्य सरकार इन्हें समाहित कर मिशन 2030 का विजन डॉक्यूमेंट जारी करेगी।

इस दौरान राजस्व मंत्री जाट ने भीलवाडा डेयरी द्वारा किये जा रहे कार्यो की जानकारी देते हुए कहा कि दुग्ध उत्पादकों को अच्छा मुनाफा मिले तथा दुग्ध उपभोक्ताओं को गुणवत्तापूर्ण दूध व दूध से बनने वाले अन्य उत्पादों की क्वालिटी बनाये रखने के लिए भीलवाडा डेयरी निरन्तर अच्छा कार्य कर रही है।

कार्यशाला में भीलवाड़ा जिला कलेक्टर आशीष मोदी ने राज्य में विजन 2030 की आवश्यकता को स्पष्ट करते हुए आमजन व बुद्विजीवियों से अपने सुझाव प्रस्तुत किये जाने हेतु ऑनलाइन एवं अन्य माध्यमों से अधिक से अधिक सुझाव देने की अपील की।

आमसभा की बैठक के दौरान सर्वसम्मति से निम्न महत्वपूर्ण प्रस्ताव पारित किये गयेः-

वित्तीय वर्ष 2023-24 का 799 करोड़ रूपये के बजट का अनुमोदन किया गया।
दीपावली पर्व पर पशुपालकों को दुग्ध संघ से 0.50 रूपये प्रति लीटर बोनस राशि का भुगतान किये जाने एवं पशुपालकों को मूल्य दर अन्तर राशि का भुगतान किये जाने का प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया।

सदन द्वारा 129.92 करोड़ रूपये की लागत के पशु आहार, मिनरल मिक्सचर ट्रेटा पैक संयंत्र स्थापित किये जाने के प्रस्ताव की पुष्टि की गई ।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles