डेराप्रेमियों का संकल्प एक थे, एक हैं, एक ही रहेंगे

जयपुर। डेरा सच्चा सौदा इस बार भी लोकसभा चुनावों में बड़ी भूमिका में नजर आएगा। डेरा की राजनैतिक विंग नामचर्चाओं के बहाने डेरा प्रेमियों की नब्ज टटोलने में जुट गई है।

0
28

जयपुर। डेरा सच्चा सौदा इस बार भी लोकसभा चुनावों में बड़ी भूमिका में नजर आएगा। डेरा की राजनैतिक विंग नामचर्चाओं के बहाने डेरा प्रेमियों की नब्ज टटोलने में जुट गई है। विंग के सदस्य उत्तर भारत के सात राज्यों-हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, दिल्ली, उत्तरप्रदेश, उत्तराखंड, मध्यप्रदेश में डेरा सच्चा सौदा के स्थापना तथा जाम-ए-इन्सां गुरू का दिवस की वर्षगांठ के उपलक्ष में हो रही नामचर्चाओं में एकजुटता का संदेश दे रहे हैं। इसी सिलसिले में जयपुर के रूह-ए-सुख आश्रम व कोटा के आश्रम में नामचर्चाएं आयोजित की गईं।

इन नामचर्चाओं में हजारों की संख्या में डेराप्रेमी जुटे। नामचर्चा के पश्चात राजस्थान की राजनैतिक विंग के सदस्य रणजीत सिंह इन्सां, संपूर्ण सिंह इन्सां, राजाराम इन्सां, कुलभूषण इन्सां ने आगामी लोकसभा चुनावों को लेकर डेराप्रेमियों की राय जानी। इस दौरान डेराप्रेमियों ने हाथ खड़े करके व ‘धन-धन सतगुरू तेरा ही आसरा’ का नारा लगाकर संकल्प लिया कि वे डेरा सच्चा सौदा के लिए एक थे, एक हैं, एक ही रहेंगे।

दस लोकसभा सीटों पर डेरा का प्रभाव

राजस्थान में डेरा सच्चा सौदा के करीब 13 जिलों में बेहद मजबूत आधार है। प्रदेश की दस लोकसभा सीटों श्रीगंगानगर, बीकानेर, चूरू, अलवर, सीकर, झुंझनुं, कोटा, जयपुर शहर, जयपुर ग्रामीण व दौसा-करौली पर डेरा प्रेमियों के करीब 20 लाख वोटर्स हैं। इन सीटों पर डेरा का समर्थन प्राप्त करने के लिए अधिकतर प्रत्याशी डेरा प्रमुख की शरण में जाते हंै। यहां तक की दोनों ही प्रमुख दलों कांग्रेस व भाजपा के मुखिया चुनावी दौर में डेरा मुख्यालय में प्रत्याशियों के साथ जाते रहे हैं। इस बार बदली हुई परिस्थितियों के मद्देनजर राजनेता डेरा के वोट बैंक का समर्थन पाने के लिए गुपचुप तरीके से जिम्मेवारों के संपर्क में हैं।

राजनेताओं को सीधा संदेश

डेरा सच्चा सौदा की राजनैतिक विंग के चैयरमेन रामसिंह ने नामचर्चाओं में डेरा प्रेमियों के उमड़े सैलाब पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि यह बात दिमाग से निकाल दें कि डेरा बिखर गया है। हम एकजुट थे, एकजुट हैं और एकजुट ही रहेंगे। नेता चाहे सार्वजनिक रूप से डेराप्रेमियों से मुलाकात की बात को न स्वीकार करें लेकिन यकीन मानिए कई दलों के दिग्गज नेता डेरा सच्चा सौदा की राजनैतिक विंग से संपर्क कर रहे हैं।

14 को श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ होगा शक्ति प्रदर्शन

बीकानेर संभाग के सभी विधानसभा क्षेत्रों में प्रभावशाली डेरा की विशेष नामचर्चा 14 अपै्रल को श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ के आश्रमों में होगी। सूत्रों के मुताबिक इन नामचर्चाओं में श्रीगंगानगर, बीकानेर व चूरू संसदीय क्षेत्रों के बड़ी संख्या में डेरा प्रेमी शिरकत करेंगे। इस दौरान इन तीनों सीटों पर एकजुट होकर वोटिंग को लेकर रणनीति बनाई जाएगी। सूत्रों के मुताबिक डेरा मुख्यालय सिरसा में मई के प्रथम सप्ताह में सात राज्यों की साध-संगत की बड़ी नामचर्चा में चुनावी समर्थन को लेकर डेरा की राजनैतिक विंग अपने पत्ते खोलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here