July 15, 2024, 11:19 pm
spot_imgspot_img

वैश्य महापंचायत में समाज के हजारों लोगों ने दिखाया शक्ति प्रदर्शन

जयपुर। राजस्थान में आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर राजनीतिक दलों को अपनी ताकत व एकजुटता दिखाने हर समाज हुंकार भरता दिखाई दे रहा है। वहीं रविवार को मानसरोवर स्थित वीटी रोड ग्राउंड पर वैश्य समाज के पदाधिकारियों और हजारों लोगों ने संकल्प लेते हुए ऐलान कर दिया कि कोई भी दल उनके समाज को हल्के में न लें। जो दल उपेक्षा करेगा उसे चुनाव में आइना दिखा दिया जाएगा। इसके साथ ही विधानसभा चुनाव में भाजपा-कांग्रेस दोनों ही दलों से 30-35 टिकट देने तथा राज्य सरकार से व्यापारी कल्याण आयोग का गठन करने तथा ईडब्ल्यूएस में आरक्षण 10 से बढ़ाकर 14 फीसदी करने की भी मांग की।

सबसे अहम बात यह थी कि वैश्य समाज का यह कार्यक्रम पूरी तरह राजनीतिक था, लेकिन उसमें दलगत राजनीति, गुटबाजी के बजाय एकजुटता नजर आई। भाजपा व कांग्रेस के नेता सभी ने एकजुटता से समाज को आगे ले जाने व विकास के सामूहिक प्रयासों पर जोर दिया। कार्यक्रम में हजारों की संख्या में आई भीड़ पूरी तरह अनुशासित नजर आई। पार्किंग हो या बैठने की व्यवस्था अथवा भोजन व्यवस्था पूरी तरह सुनियोजित दिखी। समाज के वालंटियर्स ने हर जगह मोर्चा संभाल रखा था।

वैश्य महापंचायत में प्रदेशभर से अग्रवाल,जसवाल,विजयवर्गीय,खण्डेलवाल ,जैन,वैश्य व वैष्णव समाज से जुड़े नेता,बिजनेसमैन सहित हजारों की संख्या में लोग पहुंचे । समाज की इस महापंचायत में ऑल राजस्थान इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष एन के जैन ने बताया कि महापंचायत के जरिए हमने समाज की एकजुटता दिखाने का प्रयास किया है। महापंचायत में समाज के लोगों ने प्रतिनिधित्व नहीं मिलने का आरोप भी लगाया है।

समाज के लोगों का कहना है कि राजस्थान में हमारी जितनी भी संख्या है उसके आधार पर हमे आज तक सही प्रतिनिधित्व करना वाला प्रतिनिधी नहीं मिला है। इस लिए वैश्य समाज इस मंच के माध्यम से सरकार को ये संदेश देना चाहते है कि समाज की संख्या के आधार पर आगामी विधानसभा चुनाव में 30 से 35 टिकट हमें दिए जाए। जिससे आने वाले लोकसभा चुनावों में समाज को सही प्रतिनिधित्व मिले।

ईडब्ल्यूएस में मिले 14 प्रतिशत आरक्षण

वैश्य महापंचायत में प्रदेश भर से मंच पहुंचे समाज के लोगों ने व्यापारी वर्ग के लिए सरकार से व्यापारी कल्याण आयोग का गठन करने की मांग की। मंच पर उपस्थित रहे समाज के गणमान्य लोगों ने समाज में जो पिछड़े लोग है उनकी सहायता के लिए ईडब्ल्यूएस के आरक्षण में 10 से बढ़ाकर 14 प्रतिशत करने की मांग की।

कार्यक्रम संयोजक राकेश गुप्ता ने बताया कि अभी तक समाज के पास कोई भी बड़ा चेहरा नहीं है। जो समाज सरोकार की बात करें, जो भी समाज के हित में काम करेंगा वहीं हमारे लिए बड़ा चेहरा है। समाज के उचित कार्य करने वाले को ही मंच पर स्थान दिया जाएगा।

50 जिलों से पहुंचे समाज के लोग

वैश्य समाज के प्रतिनिधि पवन गोयल ने बताया कि इस महापंचायत में करीब 50 जिलों से समाज के लोग शामिल हुए है। समाज के लोगों अलग-अलग जगहों से बसों के माध्यम से जयपुर आया गया है।

मंच पर इन लोगों को दिया गया स्थान

वैश्य समाज को एकजुट करने के लिए समाज के प्रतिनिधियों ने काफी जोर दिया ।मंच पर काली चरण सर्राफ,अशोक लाहोटी,सुधीर सनवर,ज्योति खंडेलवाल ,सीताराम अग्रवाल व बनवारी लाल सिंघल मौजूद रहें। जिन्होने समाज को एक नई दिशा देने की बात कहीं और उनकी मांगों को सरकार तक पहुंचाने का आश्वासन दिया।

पुलिस की रहीं खास व्यवस्था

महापंचायत में समाज के लोगों कि भीड़ को देखते हुए पुलिस प्रशासन जाम से निजात पाने के लिए पहले से ही पुख्ता व्यवस्था कर रखी थी। पुलिस ने मध्यम मार्ग से शिप्रा पथ थाने के सामने जाने वाली रोड को बेरीकेट लगा कर बंद कर दिया ,जिससे जाम की स्थित नहीं बने। महापंचायत में आने वाली बसों को सभा स्थल से करीब दो किलोमीटर दूर विल्डफिल्ड कॉलेज की पार्किग में ही खड़ा करवा दिया। यहां से ई-रिक्शा के माध्यम से लोगों को सभा स्थल तक पहुंचाया गया।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles