June 21, 2024, 11:32 pm
spot_imgspot_img

एसीएस ने किया जयपुरिया अस्पताल का आकस्मिक निरीक्षण— साफ-सफाई में खामी मिलने पर अधीक्षक को कारण बताओ नोटिस— दो नर्सिंगकर्मी को सीसीए-17 का नोटिस

जयपुर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव शुभा सिंह ने सोमवार को राजकीय जयपुरिया अस्पताल का आकस्मिक निरीक्षण किया और हीटवेव प्रबंधन सहित अन्य व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने अस्पताल में साफ-सफाई व्यवस्था समुचित नहीं मिलने पर नाराजगी व्यक्त की और सख्त एक्शन लेते हुए अस्पताल अधीक्षक को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। साथ ही, दो नर्सिंग अधिकारियों को सीसीए नियम-17 के तहत नोटिस देने के निर्देश दिए।

श्रीमती सिंह सुबह करीब 9.15 बजे अचानक जयपुरिया अस्पताल पहुंची और वहां अस्पताल के सभी कक्षों में जाकर स्वास्थ्य सुविधाओं का निरीक्षण किया। उन्होंने ब्लड बैंक में रक्त उपलब्धता एवं कम्प्यूटर में इन्वेंट्री चैक की। अधिकारियों से ब्लड बैंक संचालन के संबंध में विस्तार से जानकारी ली और पारदर्शितापूर्वक रक्त की उपलब्धता एवं आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने अस्पताल कार्मिकों की उपस्थिति भी जांची।

कूलर, एसी की संख्या बढ़ाने के निर्देश—

अतिरिक्त मुख्य सचिव ने आईपीडी ब्लॉक, ओपीडी ब्लॉक, रजिस्ट्रेशन काउंटर, आपातकालीन इकाई, टीकाकरण कक्ष, फिजियोथेरेपी कक्ष, बाल चिकित्सा कक्ष, पीआईसीयू, सर्जरी आईसीयू, एसएनसीयू, हीट स्ट्रोक वार्ड सहित सभी कक्षों में जाकर निरीक्षण किया। उन्होंने भीषण गर्मी को देखते हुए अस्पताल में विभिन्न स्थानों पर कूलरों की संख्या बढ़ाने, आवश्यकतानुसार एसी एवं वाटर कूलर लगाने, छाया के लिए ग्रीन नेट लगाने के निर्देश दिए। साथ ही हीटवेव से संबंधित व्यवस्थाओं के सुचारू संचालन के लिए निरन्तर मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि तात्कालिक आवश्यकताओं आरएमआरएस में उपलब्ध फंड तथा सीएसआर के माध्यम से तुरंत पूरा किया जाए।

सफाई के लिए क्यूआर कोड व्यवस्था सुचारू रूप से संचालित करें—

निरीक्षण के दौरान शौचालयों में साफ-सफाई की व्यवस्था समुचित नहीं मिलने पर श्रीमती सिंह ने अस्पताल अधीक्षक डॉ. महेश मंगल को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। साथ ही, सर्जिकल वार्ड के शौचालयों साफ-सफाई की स्थिति सही नहीं मिलने पर नर्सिंग कर्मी अरविन्द शर्मा एवं एएनसी वार्ड के शौचालयों में समुचित साफ-सफाई नहीं मिलने पर नर्सिंगकर्मी तरूण लता को सीसीए नियम-17 के तहत नोटिस देने के निर्देश दिए। उन्होंने अस्पताल में समुचित साफ-सफाई रखने तथा क्यूआर कोड व्यवस्था सुचारू संचालन करने के निर्देश दिए।

हीटवेव को लेकर अस्पतालों में हो रहे आवश्यक प्रबंध—

मीडिया से बातचीत के दौरान श्रीमती सिंह ने कहा कि विगत दिनों दिए गए दिशा-निर्देशों के बाद प्रदेशभर में हीटवेव को लेकर अस्पतालों में आवश्यक प्रबंध सुनिश्चित किए जा रहे हैं।

कूलर, पंखे, एसी, वाटर कूलर सहित अन्य तात्कालिक आवश्यकताओं को यथासंभव तुरंत प्रभाव से पूरा किया जा रहा है। जयपुरिया अस्पताल में भी हीटवेव को लेकर आवश्यक प्रबंध सुनिश्चित किए गए हैं। निरीक्षण के दौरान यहां व्यवस्थाएं संतोषजनक सामने आई हैं। हालांकि भीषण गर्मी को देखते हुए कूलर, एसी आदि की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए हैं।

अब मां की पुकार सुन सकेगा पूर्वांश—

निरीक्षण के दौरान अतिरिक्त मुख्य सचिव ने रोगियों एवं उनके परिजनों से बात कर अस्पताल में उपलब्ध कराई जा रही स्वास्थ्य सेवाओं के संबंध में फीडबैक प्राप्त किया। रोगियों के परिजनों ने बताया कि अस्पताल में जांच, दवा एवं उपचार सहित अन्य सेवाएं सुगमतापूर्वक मिल रही हैं। श्रीमती सिंह ने अस्पताल में भर्ती ढाई वर्ष के बच्चे पूर्वांश के स्वास्थ्य के बारे में भी जानकारी ली। पूर्वांश के पिता श्री लोकेश ने बताया कि वे प्रतापगढ़ के रहने वाले हैं। पूर्वांश को कान में विकृति के कारण जन्म से ही सुनाई नहीं देने की समस्या थी। उसे उपचार के लिए वे जयपुरिया अस्पताल लेकर आए। यहां सुगमतापूर्वक उपचार उपलब्ध कराते हुए पूर्वांश को निःशुल्क कॉकलियर इम्पलांट किया गया है। अब पूर्वांश अपनी मां और पिता की पुकार सुन सकेगा।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles