पुलिस उपायुक्त उत्तर रामगंज थाने में की जनसुनवाई

जयपुर। पुलिस उपायुक्त उत्तर श्रीमति राशि डोगरा डूडी शनिवार को रामगंज थाने में जन सुनवाई की। डीसीपी नॉर्थ राशि डोगरा ने रामगंज थाने में नॉर्थ के सर्किल के थाना इलाके में रहने वाले लोगों की परेशानी जानी। इस दौरान बड़ी संख्या में लोग अपनी परेशानी और पुलिस के द्वारा उस पर काम नहीं करने को लेकर रामगंज थाने पहुंचे। जनसुनवाई में अधिकांश लोगों ने चोरी और धोखाधड़ी की शिकायतें डीसीपी को बताई।

लोगों का कहना है कि इस इलाके में सबसे ज्यादा चोरी और धोखाधड़ी की घटनाएं होती हैं। पुलिस केवल खानापूर्ति करती है। पुलिस को कई बार घटनाओं की सीसीटीवी फुटेज दी जाती है, लेकिन उसके बाद भी आरोपियों का कोई सुराग नहीं लगता। नॉर्थ जिला सबसे अधिक भीड़भाड़ वाला है, इसलिए यहां पर बाहरी राज्यों के बदमाश आकर के भी वारदात कर जाते हैं।

पीड़ितों ने डीसीपी नॉर्थ को बताया कि यहां पर सोने-चांदी के साथ-साथ पत्थर और नगीने का बड़ा काम होता है। यहां पर बनने वाला मटेरियल विदेशों तक जाता है। कई लोग यहां पर खरीददार बनकर आते हैं और व्यापारियों को अपनी बातों में फंसा कर माल ले जाते हैं और पैसा नहीं देते हैं। शिकायत दर्ज करने के बाद भी पुलिस उन के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लेती है। यहां पर ठगी के कई मामले सामने आते हैं, लेकिन पुलिस एफआईआर दर्ज करती नहीं हैं। ऐसे में पीड़ित को मायूस होकर थाने से जाना पड़ता है।

पुलिस की प्राथमिकता एफआईआर दर्ज कर जांच करने की होनी चाहिए, लेकिन पुलिस लोगों को गुमराह करती है कि अगर एफआईआर दर्ज होती तो उनको थाने और कोर्ट के चक्कर काटने होंगे। पुलिस पहले शिकायत लेती है। बदमाश पकड़े जाएंगे तो एफआईआर दर्ज कर ली जाएगी। कई पीडितों ने पुलिस के रवैये और काम करने के तरीकों की शिकायत डीसीपी को की। इस पर डीसीपी ने संबंधित थाने के सीआई को पीड़ित के सामने खड़ा करके कारण पूछा। इस दौरान कई सीआई के पास जवाब नहीं था। चोरी, लूट जैसी घटनाओं को सामान्य ना माना जाए वारदात होने पर सीआई की जिम्मेदारी बनती है कि पीड़िता को सपोर्ट करें और एफआईआर दर्ज कर जांच करें।

जनसुनवाई के दौरान अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त उत्तर प्रथम, सहायक पुलिस आयुक्त रामगंज, सहायक पुलिस आयुक्त माणक चौक, सहायक पुलिस आयुक्त आमेर, थाना अधिकारी रामगंज, थाना अधिकारी गलता गेट, थाना अधिकारी ब्रह्मपुरी, थानाधिकारी माणक चौक, थाना अधिकारी सुभाष चौक, थाना अधिकारी ब्रह्मपुरी, थानाधिकारी जयसिंहपुरा खोर, थाना अधिकारी आमेर, थानाधिकारी महिला थाना उत्तर और थाने के अधिकारी उपस्थित रहें।

गौरतलब है कि इससे पूर्व पुलिस आयुक्त जयपुर बीजू जॉर्ज जोसफ द्वारा थाना शिप्रापथ (जयपुर दक्षिण), कानोता (जयपुर पूर्व), करधनी (जयपुर पश्चिम) एवं विद्याधरनगर (उत्तर) थानों में जनसुनवाई कर परिवादियों की समस्याओं का मौके पर ही निस्तारण किया जा चुका है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles