June 14, 2024, 3:08 am
spot_imgspot_img

जयपुर में ग्यारह हजार घरों में बुद्ध पूर्णिमा को होगा गायत्री महायज्ञ

जयपुर। अखिल विश्व गायत्री परिवार की ओर से गुरुवार को बुद्ध पूर्णिमा (पीपल पूनम) को पर्यावरण संरक्षण, राष्ट्र नव निर्माण, देश में सुख-शांति-समृद्धि के लिए एक साथ एक समय में घर-घर गायत्री महायज्ञ का आयोजन किया जाएगा। इस श्रृंखला में गायत्री परिवार के सदस्य अलग-अलग घरों में जाकर गायत्री महायज्ञ संपन्न कराएंगे। यज्ञ के बाद तरु प्रसाद के रूप में पौधे दिए जाएंगे। लोगों को रक्तदान-अंगदान का संकल्प कराया जाएगा। लोगों को गायत्री परिवार के संस्थापक पंडित श्रीराम शर्मा आचार्य द्वारा लिखित पुस्तकें निशुल्क भेंट की जाएगी। वहीं जयपुर जिले में 11 हजार घरों में गायत्री महायज्ञ कराया जाएगाा।

वहीं पूरे प्रदेश में एक लाख और देशभर में 24 लाख स्थानों पर यज्ञ कराए जाएंगे। गायत्री परिवार के सभी शक्ति पीठ, चेतना केन्द्र, प्रज्ञा मंडल, युवा मंडल, महिला मंडल,नव चेतना विस्तार केंद्र प्रमुख, गायत्री प्रज्ञा पीठों से जुड़े सक्रिय परिजनों को जिम्मेदारी सौंपी गई है। आचार्य गण संक्षिप्त हवन सामग्री के साथ विधि-विधान से यज्ञ संपन्न कराएंगे। नए परिवारों में घर-घर यज्ञ कराने पर विशेष जोर दिया जाएगा। कई मंदिरों में भी सामूहिक रूप से यज्ञ भी होगा। धार्मिक और सामाजिक संस्थाओं को भी गृहे-गृहे यज्ञ अभियान से जोड़ा गया है। गायत्री शक्तिपीठ ब्रह्मपुरी, गायत्री शक्तिपीठ वाटिका और गायत्री शक्तिपीठ कालवाड़ में यज्ञ सामग्री के किट बनाकर आसपास के घरों में वितरण किया जा चुका है।

किरण पथ मानसरोवर स्थित श्री वेदमाता गायत्री वेदना निवारण केन्द्र में शांतिकुंज प्रतिनिधि आर डी गुप्ता के निर्देशन में कार्यकर्ताओं ने यज्ञ किट तैयार किए। रोजाना सुबह शाम यज्ञ किट का वितरण किया जा रहा है। भोजराज पारीक ने बताया कि मानसरोवर क्षेत्र में अब तक 1600 किट का वितरण किया गया। अभी भी भारी मांग आ रही है।

चेतना केंद्र दुर्गापुरा में हवन सामग्री का वितरण किया जा चुका है। आसपास की कॉलोनियों में सुबह-शाम घर-घर जाकर यज्ञ करने के उद्देश्य से यज्ञ सामग्री किट वितरण किया गया है। लोगों को यज्ञ करने का पत्रक देकर यज्ञ से ऑनलाइन जुड़ने का तरीका समझाया गया। चेतना केंद्र दुर्गापुरा के 108 घरों में यज्ञ करवाया जाएगा। कालवाड़ शक्तिपीठ क्षेत्र के 500 घरों में हवन होगा। वही मुरलीपुरा क्षेत्र में 200 किट वितरण किया गया है।

गायत्री परिवार राजस्थान के प्रभारी ओमप्रकाश अग्रवाल ने बताया कि वैश्विक सुख-शांति और प्रगति के लिए, विश्व में एकता, समता, ममता का वातावरण निर्मित करने के लिए विराट वैश्विक यज्ञीय प्रयोग बीते कई वर्षों से अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार के मार्गदर्शन में किया जा रहा है। इस वर्ष भी गायत्री परिवार बुद्ध पूर्णिमा को यज्ञ दिवस के रूप में मनाएगा। इस अवसर पर देश-विदेश में लाखों घरों में एक साथ गृहे-गृहे गायत्री यज्ञ किया जाएगा।

गायत्री परिवार के जयपुर उप जोन के प्रभारी सुशील कुमार शर्मा ने बताया कि घरों के अलावा व्यावसायिक प्रतिष्ठानों, मंदिरों और कॉलोनियां में यज्ञ कराया जाएगा। लोग स्वतरू भी इस यज्ञ को कर सकते है। इसके प्रशिक्षण के लिए यूट्यूब, इंटरनेट, सोशल मीडिया में इसका वीडियो अपलोड किए गए हैं। अलग से मोबाइल पंडित एप भी बनाया गया है। यज्ञ सामग्री स्थानीय शक्ति पीठ, प्रज्ञा पीठ और प्रज्ञा मंडल में उपलब्ध है। गायत्री परिवार ने लोगों से अपील की है कि सभी इस दिन अपने-अपने घरों, प्रतिष्ठानों में यज्ञ करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles