हनुमान जन्मोत्सव: अंजनि के लाल भगवान हनुमान का शहर भर में हुआ गुणगान

जयपुर। राजधानी जयपुर में श्री अंजनी पुत्र भगवान हनुमान का जन्मोत्सव चेत्र पूर्णिमा (मंगलवार) को बड़े ही धूमधाम से मनाया गया। जहां भक्तों में संकटमोचन श्री हनुमान जन्मोत्सव को लेकर उत्साह नजर आया। शहर के हनुमान मंदिरों में हनुमानजी का अभिषेक कर षोडशोपचार पूजन किया गया। मंदिरों में सुंदरकांड के पाठ हुए और हनुमान चालीसा की चौपाइयां गुंजायमान हुआ। साथ ही हनुमान मंदिरों में मध्य रात्रि 12 बजे केसरी नंदन का औषधी युक्त द्रव्यों व दुग्धाभिषेक के बाद शुद्ध स्नान करवा कर सिंदुर का चौला चढ़ाया गया।

इसके बाद हनुमानजी को नवीन पोशाक धारण करवा ऋतु पुष्पों से मनोहरी शृंगार किया गया। इसके साथ ही भक्तजन हनुमान जी का दर्शन कर प्रसाद अर्पित कर संकट हरण की कामना की। वहीं मंदिरों में पूजा पाठ के बाद श्रद्धालुओं को प्रसाद का वितरण किया गया। शहर के प्रसिद्ध हनुमान चांदपोल हनुमान, खोले के हनुमान, पेट्रोल पंप वाले हनुमान मंदिर, काला हनुमान मंदिर, सांगानेरी गेट हनुमान मंदिर,दिल्ली बाईपास स्थित पंचमुखी हनुमान मंदिर सहित अन्य हनुमान मंदिरों में हनुमान जी का दुग्धाभिषेक,श्रृंगार कर आरती की गई। इससे पहले सभी मन्दिरों को फूलों सजाया गया व भगवान को फूल बंगले में विराजमान कराया गया। इसके अलावा दर्जनों स्थानों से प्रसिद्ध हनुमान मंदिरों के लिए पदयात्राएं पहुंच कर भगवान हनुमान के दर्शन किए।

108 औषधियुक्त द्रव्यों से हुआ अभिषेक

खोले के हनुमानजी मंदिर में मंगलवार को हनुमान जन्मोत्सव का मुख्य आयोजन हुआ। नरवर सेवा समिति के महामंत्री बृजमोहन शर्मा ने बताया कि मंगलवार सुबह सात बजे हनुमान जी का 108 औषधियुक्त द्रव्यों व विभिन्न तीर्थों के जल से मंत्रोच्चारण के साथ अभिषेक किया गया। मध्याह्न 12 बजे विशेष उत्सव आरती व दोपहर 2 से 5 बजे तक हवन का आयोजन हुआ। हनुमान जी को चांदी की पोशाक धारण कराई गई।

चार धाम के हुए दर्शन

अंबाबाड़ी स्थित संकटमोचन हनुमान मंदिर में हनुमान जन्मोत्सव के दौरान भक्तों को चार धाम गंगोत्री, यमनोत्री, बद्रीनाथ, केदारनाथ के साथ ही भोलेनाथ के दर्शन कराए गए। मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष सुरेंद्र कुमार गुप्ता ने बताया कि मंदिर के बाहर चारधाम यात्रा की सजीव झांकी, केवट श्री राम संवाद के साथ ही माता शबरी के भगवान राम को बेर खिलाने की झांकी सजाई गई है। मंगलवार सुबह सात बजे बालाजी का पंचामृत अभिषेक किया किया। हनुमानजी को नवीन पोशाक धारण करवा देसी-विदेशी फूलों से श्रृंगार किया गया। भक्तों को बूंदी का प्रसाद वितरित किया गया।

हाथोज में 56 भोग एवं फूल बंगला झांकी सजाई

श्री दक्षिण मुखी बालाजी मंदिर हाथोज धाम में हनुमान जन्मोत्सव स्वामी बालमुकुंद आचार्य के सानिध्य में मनाया गया। श्री बालाजी कल्याण सेवा ट्रस्ट के प्रवक्ता ने बताया कि पूर्णिमा पर हनुमान जन्मोत्सव पर 56 भोग एवं फूल बंगला झांकी सजाई जाएगी।

श्री मनसापूरण हनुमान मंदिर में धूमधाम से मनाया हनुमान जन्मोत्सव

करतारपुरा के श्री मनसापूरण हनुमान मंदिर में दो दिवसीय हनुमान जन्मोत्सव कार्यक्रम आयोजित किया गया। मन्दिर महंत राधेश्याम लल्लू महाराज ने बताया कि मंगलवार को हनुमान जन्मोत्सव के दिन श्री मनसापूरण हनुमान जी का प्रातः 8 बजे वैदिक मंत्रोच्चार के साथ दुग्धाभिषेक एवं रूद्र पाठ किया गया। संध्याकाल में 11000 लड्डूओं का भोग लगा कर महाआरती की गई। जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।

साथ ही मंदिर में बालाजी की आकर्षक फूल बंगला झांकी सजाई गई। इस दौरान भजन संध्या का आयोजन किया गया। जिसमें कई ख्याति प्राप्त गायक कलाकारों ने अपने भजनों से प्रभु का गुणगान किया। भजन संध्या में गायक कलाकारों ने अपने भजन प्रस्तुतियों से वीर बजरंग बली को रिझाया तो सजीव झांकियों ने सभी का मन मोह लिया। देर रात तक चले कार्यक्रम में नाचते गाते वीर बजरंगबली का जयकारा लगाते हुए आनंद के साथ हनुमान जन्मोत्सव मनाया।

बस्सी के बाग वाले हनुमान मंदिर जयकारों से गूंज उठा

जयपुर। बनीपार्क कौशल्या दास जी की बगीची स्थित श्री बस्सी के बाग वाले हनुमान मंदिर में मंगलवार को हनुमान जन्मोत्सव का आयोजन किया गया। जहां भगवान का दुग्धाभिषेक कर विशेष श्रृंगार किया गया। साथ ही सुन्दरकाण्ड के पाठ किए गए और मंदिर में हनुमान जी की आकर्षक फूल बंगला झांकी सजाई गई।
मन्दिर महंत उमेश शर्मा ने बताया कि इससे पहले मंगलवार सुबह दुग्धाभिषेक कर विशेष श्रृंगार के बाद हनुमान जी को नई पोशाक धारण करवाई कई । वहीं मंदिरों में सुबह से ही विभिन्न धार्मिक कार्यक्रम आयोजित किए गए। वहीं देर शाम को महाआरती के बाद हजारों श्रद्धालुओं ने प्रसादी ली। इस दौरान मन्दिर परिसर हनुमान जी जयकारों से गूंज उठा।

सिद्धेश्वर हनुमान मंदिर श्री हनुमत प्रकटोत्सव धूमधाम से मनाया

सोडाला के स्वेज फॉर्म में स्थित श्री सिद्वेश्वर हनुमान मंदिर में मंगलवार को श्री हनुमत प्रकटोत्सव बड़ी धूमधाम से मनाया गया। जिसमें सैकड़ो की संख्या में श्रद्धालु उपस्थित हुए। मंगलवार को श्री सिद्वेश्वर हनुमान मंदिर में प्रातः सवा 9 बजे हनुमान जी महाराज का अभिषेक किया गया। जिसके पश्चात दोपहर 12 बजे श्रद्धालु मंदिर प्रांगण में सामूहिक महाआरती का लाभ उठाया। मंदिर प्रांगण में पधारें श्रद्धालुओं को साढ़े 12 बजे आईसक्रीम वितरण की गई। दोपहर 1 बजे से शाम 4 बजे तक संत प्रसादी एवं भड़ारे का आयोजन किया गया। साथ ही शाम 7 बजे भजन संध्या प्रारंभ हुई। जो देर रात तक चली।

काले हनुमान मंदिर में छप्पन भोग की झांकी सजाकर हुई महाआरती

चांदी के टकसाल स्थित काले हनुमान मंदिर में हनुमान जन्मोत्सव मनाया गया। महंत गोपाल दास महाराज ने बताया कि हनुमान जन्मोत्सव के उपलक्ष में मंगलवार को हनुमान जी को नवीन पोशाक धारण कराकर विशेष फूल बंगला झांकी सजाई गई। मंदिर प्रांगण में सुंदरकांड के पाठ के आयोजन हुए। हनुमान जी के छप्पन भोग की झांकी सजाकर महाआरती की गई। काले हनुमान मंदिर भक्त मंडल के संयोजक योगेश शर्मा ने बताया कि मोती डूंगरी गणेश मंदिर से 17वीं ध्वज पदयात्रा भक्तों के द्वारा निकाली गई। जो रामनिवास बाग त्रिपोलिया बाजार होते हुए चांदी की टकसाल श्री काले हनुमान मंदिर पहुंची। मुख्य रथ पर हनुमान जी रथ में विराजमान रहे। मंदिर पहुंचने के बाद मुख्य रथ की आरती हुई।

नगर भ्रमण पर निकले हनुमान जी महाराज

श्री हनुमन्त शोभायात्रा समिति द्वारा हनुमान जयंती के अवसर पर मंगलवार शाम शोभायात्रा निकाली गई । शोभायात्रा सांय 6.30 बजें सांगानेरी गेट हनुमान मंदिर से प्रारम्भ होकर जौहरी बाजार, बड़ी चोपड़, त्रिपोलिया बाजार, छोटीचोपड़, किशनपोल बाजार, इन्दिरा बाजार, खजाने वालो के रास्ते होकर चांदपोल गेट हनुमान मन्दिर पर सम्पन्न हुई। इस शोभायात्रा में इस बार भी कई इलेक्ट्रॉनिक व कई मंदिरों की झांकियां शामिल रही। शोभायात्रा मार्ग में अनेक विशेष मंच बनाये गए। जहां से प्रमुख अतिथि आरती उतारकर हनुमान जी का आशीर्वाद प्राप्त किया।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles