June 22, 2024, 10:50 pm
spot_imgspot_img

हीटवेव से मरीजों की संख्या में हिजाफा लेकिन एसएमएस में डेडिकेटेट वार्ड तक तैयार नहीं

जयपुर। प्रदेश के सवाई मानसिंह चिकित्सालय में गुरुवार को चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग अतिरिक्त मुख्य सचिव शुभ्रा सिंह सहित चिकित्सा शिक्षा आयुक्त इकबाल खान ने अस्पताल परिसर का दौरा किया। इमरजेंसी, मेडिसिन वार्ड, बांगड़ परिसर एवं चरक भवन का दौरा कर चिकित्सा व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। अस्पताल परिसर के गलियारों में पेशाब की बदबू से परेशान मरीज, पुरानी इमरजेंसी में डक्टिंग प्लांट बंद होने एवं अन्य स्थानों पर कूलर, पंखे, एसी चालू नहीं होने के दौरान अस्पताल प्रशासन को फटकार लगा नाराजगी जाहिर की।

उन्होंने सवाई मानसिंह मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. दीपक माहेश्वरी एवं अधीक्षक डॉ. सुशील भाटी को निर्देश दिए कि अस्पताल में अतिआवश्यक प्रकृति की सेवाओं के लिए तत्काल प्रभाव से कंटीजेंसी प्लान बनाएं एवं दो दिन के भीतर कूलर, पंखे, एसी, वाटर कूलर आदि को ठीक करवाएं। साथ ही अन्य व्यवस्थाओं को सात दिन में सुचारू करें।

हीटवेव को लेकर डेडिकेडेड बेड के निर्देश, लेकिन अब तक एसएमएस में नहीं बना वार्ड,

अतिरिक्त मुख्य सचिव ने अस्पताल परिसर में रोगियों एवं परिजनों के लिए पेयजल तथा बैठने की समुचित व्यवस्था करने के निर्देश तो दिए। लेकिन राज्य सरकार के आदेशों की अवेलना अस्पताल में जमकर हो रही है। हीटवेव के मरीजों में लगातार इजाफा हो रहा है, हीटवेव से पीड़ित मरीजों को राहत देने के लिए राज्य सरकार लू—तापघात के मरीजों के लिए बैड आरक्षित रखने, आवश्यक दवा एवं जांच सुविधाओं एवं पर्याप्त मात्रा में आईस पैक, आईस क्यूब आदि की उपलब्धता रखने के निर्देश दिए गए थे। लेकिन आदेशों की धज्जियां उड़ती देख अस्पताल प्रशासन पर नाराजगी जाहिर की ऐसे में मरीज हित को लेकर लगातार चिकित्सा विभाग की मौसमी बीमारियों पर बैठक हो रही है, लेकिन अस्पताल में डेडिकेटेट वार्ड के नहीं बनने से हीटवेव से पीड़ित मरीजों को अस्पताल में राहत नहीं मिल पा रही है।

व्यवस्थाओं में सुधार के लिए नोडल अधिकारी,

अतिरिक्त मुख्य सचिव ने चिकित्सा शिक्षा आयुक्त इकबाल खान को सवाई मानसिंह मेडिकल कॉलेज से संबद्ध एसएमएस अस्पताल सहित सभी अस्पतालों में चिकित्सा व्यवस्थाओं में सुधार के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही, नोडल अधिकारी के माध्यम से 28 मई, 2024 तक विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश भी दिए हैं।

हीटवेव प्रबंधन एवं मौसमी बीमारियों को लेकर शुक्रवार को बैठक

अतिरिक्त मुख्य सचिव की अध्यक्षता में शुक्रवार को हीटवेव प्रबंधन को लेकर उच्च स्तरीय बैठक आयोजित की जाएगी। इसमें मौसमी बीमारियों, गर्मी जनित बीमारियों, अस्पतालों में पानी, बिजली की व्यवस्था, कूलर-एसी, पंखों आदि की क्रियाशीलता सहित अन्य बिंदुओं पर विस्तृत समीक्षा की जाएगी। वीसी के माध्यम से आयोजित इस बैठक में मेडिकल कॉलेजों के प्रधानाचार्य, अधीक्षक, संयुक्त निदेशक जोन, सीएमएचओ, पीएमओ, जिला शिशु स्वास्थ्य एवं प्रजनन अधिकारी, उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक, समस्त खण्ड मुख्य चिकित्सा अधिकारी एवं खण्ड कार्यक्रम प्रबंधक शामिल होंगे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles