विश्व में डिजिटल ट्रांजेक्शन के क्षेत्र में भारत ने रचा इतिहास, 60 प्रतिशत डिजिटल ट्रांजेक्शन भारत में: जनरल वी. के सिंह

जयपुर। केंद्रीय सड़क परिवहन राजमार्ग एवं नागर विमानन राज्यमंत्री जनरल डाॅ. वी.के. सिंह ने जयपुर के होटल क्लार्क आमेर में प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 10 साल के कार्यकाल की उपलब्धियां गिनाई। इस दौरान उन्होंने सड़क परिवहन, एविएशन, इंफ्रास्ट्रक्चर, सौर ऊर्जा के क्षेत्र में आत्मनिर्भरता, ग्रीन एनर्जी , हाइड्रो एनर्जी के साथ रेलवे का विद्युतीकरण और महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में हुए आमूल-चूल परिवर्तन को बताया।

राज्यमंत्री जनरल डाॅ. वी के सिंह ने कहा कि भारत में 2014 में राष्ट्रीय राजमार्गों की लंबाई जहां 90 हजार किलोमीटर थी, वहीं मोदी सरकार बनने के बाद राष्ट्रीय राजमार्गों की लंबाई बढ़कर 1 लाख 60 हजार किलोमीटर तक पहुंच गई। देश में 2014 तक 74 हवाई अड्डे हुआ करते थे, वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में इनकी संख्या 148 हो गई। इतना ही नहीं, कई हवाई अड्डों का काम निर्माणाधीन है जिसके बाद देशभर में हवाई अड्डों की संख्या बढ़कर 200 हो जाएगी।

राज्यमंत्री जनरल डाॅ. वी के सिंह ने कहा कि भारत में पिछले एक दशक के दौरान इंफ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में ऐतिहासिक कार्य हुए है। इसकी बदौलत भारत की आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ है। वर्तमान में भारत का कैपेक्स बजट 11 लाख 11 हजार 11 सौ लाख करोड़ का है। भारत की ग्रोथ रेट 6.8 प्रतिशत की दर से बढ़ रही है। यह सब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल नेतृत्व में ही संभव हो पाया है।

राज्यमंत्री जनरल डॉ. वी के सिंह ने कहा कि भारत में कोल का उत्पादन पिछले 5 सालों में रिकॉर्ड स्तर पर हुआ है। वहीं भारत में स्वनिर्मित वंदे भारत जैसी ट्रेनों का संचालन हो रहा है। आज रेलवे का विद्युतीकरण बहुत तेजी से बढ़ रहा है। भारत ग्रीन एनर्जी के साथ हाइड्रो एनर्जी के क्षेत्र में जापान के बराबर रिसर्च कर रहा है। यहां हाइड्रोजन से सौर ऊर्जा बनाने पर तेजी से काम किया जा रहा है। भारत में डिजिटलीकरण भी तेजी से बढ़ रहा है। मोबाइल का निर्यात लगातार बढ़ रहा है। भारत के दूरदराज गांव में भी डेटा का उपयोग किया जा रहा है। आज विश्व का 60 प्रतिशत डिजिटल ट्रांजेक्शन भारत में ही हो रहा है।

राज्यमंत्री जनरल डॉ. वी के सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत ने एफडीआई के क्षेत्र में लगातार हर वर्ष अपना ही रिकाॅर्ड तोड़ा है। भारत की स्थिति का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि 192 देशों में से 162 देश भारत में निवेश कर रहे हैं। ये निवेश किसी एक क्षेत्र में ना होकर 32 अलग-अलग क्षेत्रों में और देश के हर राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेशों में किया जा रहा है। वैश्विक महामारी कोरोना के दौरान भी भारत ने एफडीआई के क्षेत्र में रिकॉर्ड स्थापित किया।

राज्यमंत्री जनरल डॉ. वी के सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में नारी शक्ति को विशेष पहचान मिली है। नारी शक्ति वंदन अधिनियम के माध्यम से देश की आधी आबादी को 33 प्रतिशत आरक्षण दिलाने का काम किया है। पीएम मोदी ने महिलाओं के सशक्तिकरण की दिशा में काम करते हुए लखपति दीदी योजना, उज्जवला योजना, ड्रोन दीदी योजना, पीएम आवास योजना जैसी अनेकों योजनाओं को शुरू कर महिलाओं के जीवन को सरल बनाया है।

राज्यमंत्री जनरल डॉ. वी के सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेेतृत्व में पिछले दस सालों में युवाओं के लिए व्यापक स्तर पर नये स्टार्ट अप शुरू हुए। देश में स्टार्ट अप का इको सिस्टम बनाया गया, 2015 में देश में महज 415 स्टार्ट अप ही थे, आज अगर 1 करोड़ टर्नओवर वाले स्टार्ट अप की संख्या में भारत विश्व में तीसरे पायदान पर पहुंच गया। जबकि स्टार्टअप की संख्या के मामलों में हम दूसरे नंबर पर और नए स्टार्टअप शुरू होने की संख्या के मामलों भारत आज विश्व में पहले स्थान पर है। इन सभी के आधार पर भारत विकसित भारत की ओर अग्रसर हो रहा हैं।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles