शिक्षा, सीख और सबक से सजा जयपुर एजुकेशन समिट-2024

पद्मश्री श्याम सुंदर पालीवाल ने किया कार्यक्रम का उद्घाटन,
‘पिपलांत्री मॉडल’ से सिखाया संघर्ष, आत्मनिर्भरता, नवाचार और पर्यावरण संरक्षण का पाठ
योग, मैडिटेशन, इंटर-रिलेशनशिप, पॉजिटिविटी, एडवांस टेक्नोलॉजी के बारे में भी मिली जानकारी
सॉरी पापा का विशेष सेशन रविवार को

जयपुर । क्रेडेंट टीवी यूट्यूब चैनल की ओर से एस.एस.जैन. सुबोध लॉ कॉलेज में आयोजित जयपुर एजुकेशन समिट (जेईएस-2024) के 5वें एडिशन का पहला दिन काफी खास रहा। श्री लक्ष्मण राम नारनौलिया की स्मृति में आयोजित शिक्षा के 5 दिवसीय महाकुंभ के पहले दिन रविवार को 10 से अधिक सेशन हुए जिसमें स्कूल और कॉलेज के स्टूडेंट्स को शिक्षा, सीख और सबक से रुबरु होने का मौका मिला।

जयपुर एजुकेशन समिट-2024 के फाउंडर एवं मैनेजिंग डायरेक्टर सुनील नारनौलिया ने मंच को संबोधित करते हुए कहा कि जीवन में जरूरी है कि आप लाइफ में क्या और कैसे करना चाहते हैं, लेकिन इससे पहले यह जानना जरूरी है कि आप उस काम को क्यों करना चाहते हैं। अगर इस ‘क्यों’ को समझ गए तो आपके लिए क्या और कैसे करने के सभी रास्ते अपने आप खुल जाएंगे। वहीं एस.एस.जैन सुबोध लॉ कॉलेज के प्रिंसिपल प्रो.(डॉ.) गौरव कटारिया ने बताया कि इस प्लेटफार्म के जरिए बच्चों को उन रियल हीरो से सीखने को मिलेगा, जिन्होंने समाज को बदला है।

इससे पहले कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पद्मश्री श्याम सुंदर पालीवाल ने दीप प्रज्जवलित कर समिट का उद्घाटन किया। यहां उन्होंने एक विशेष सेशन ‘जर्नी ऑफ पिपलांत्री’ में बच्चों को ‘पिपलांत्री मॉडल’ की जर्नी के माध्यम से संघर्ष, आत्मनिर्भरता, नवाचार और पर्यावरण संरक्षण का पाठ पढ़ाया। आयोजकों की ओर से उन्हें ‘क्रेडेंट रत्न पुरस्कार’ से सम्मानित भी किया गया।

इस मौके पर एस.एस.जैन सुबोध लॉ कॉलेज के राजेंद्र राजा एवं संजीव कोठारी, सेंट सोल्जर गर्ल्स पीजी कॉलेज की प्रिंसिपल प्रो.(डॉ.) शुभा शर्मा, कृषि जगत के वरिष्ठ पत्रकार डॉ.महेंद्र मधुप, पूर्व आईपीएस अतुल कुमार माथुर, पूर्व पुलिस महानिरीक्षक सतवीर सिंह, सामाजिक कार्यकर्ता भंवर मेघवंशी, अग्रवाल पीजी कॉलेज के प्रिंसिपल प्रदुम्न सिंह राठौड़, साइन इंटरनेशनल स्कूल की प्राचार्य भावना चौधरी और ट्री हाउस की प्राचार्य सरिता जी मौजूद रहे। मंच संचालन एमजीडी गर्ल्स स्कूल की लेक्चरर डॉ.रतना शर्मा ने किया।

सेशंस के जरिए बढ़ी बच्चों की स्किल्स

क्रेडेंट टीवी यूट्यूब चैनल की एग्जीक्यूटिव प्रोड्यूसर प्राप्ति भाटी ने बताया कि योगा सेशन में बच्चों ने अरविंद सिंह और ऐश्वर्या भट्ट से योग के फायदे, तरीके और अन्य ट्रिक्स सीखीं। एजुकेशन एंड इंडस्ट्रीज इंटर-रिलेशनशिप में अंशुल जैन और प्रदुम्न सिंह राठौड़ ने बच्चों को थ्योरिटिकल की जगह प्रैक्टिकल स्किल्स, क्रिएटिविटी, यूनीकनेस और वर्क प्लेस पर पैशन को जरूरी बताया। प्रो.शुभा शर्मा ने स्टूडेंट्स, पेरेंट्स, इंस्टीट्यूट और ऑथोरिटीज के बीच संबंधों पर विस्तार से चर्चा की। पैनल में शामिल डॉ.अमित यादव ने बच्चों की अधिक से अधिक ट्रेनिंग पर जोर दिया। वहीं लाइफ कोच दिव्या श्रीवास्तव ने जीवन में गोल हासिल करने के लिए स्ट्रेस से दूर रहने और पॉजिटिविटी के बारे में व्याख्यान दिया।

अन्य सेशंस में एआई सहित अन्य एडवांस टेक्नोलॉजी पर पैनल डिस्कशन हुआ। वहीं भूंकप सुरक्षा सप्ताह-2024 के तहत आपदा प्रबंधन सहायता कार्यशाला का भी आयोजन हुआ जिसमें डीएम अमित शर्मा और हरिश सामरिया ने आपदा के समय ओर बाद में सावधानियों एवं बचाव कार्यों को लाइव डेमो से समझाया। इसके बाद ज्योति कुंडू और इंद्रनिल कुंडू ने बच्चों को मेडिटेशन का पाठ पढ़ाया। समरेंद्र सिंह ने डीएलएसए के बारे में बताया।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles