June 21, 2024, 11:18 pm
spot_imgspot_img

जयपुर एजुकेशन समिट बीस जनवरी से: देश-विदेश के विशेषज्ञ देंगे जीवन को दिशा

जयपुर। क्रेडेंट टीवी यूट्यूब चैनल की ओर से जयपुर एजुकेशन समिट 2024 (जेईएस) के 5वें संस्करण का आयोजन बीस से चौबीस जनवरी तक जयपुर के मानसरोवर स्थित एस.एस.जैन सुबोध लॉ कॉलेज में किया जा रहा है। सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक होने वाले शिक्षा के महाकुम्भ में इस साल भी भारी संख्या में स्कूल और कॉलेज के स्टूडेंस ऑफलाइन और ऑनलाइन जुड़ेंगे।

जयपुर एजुकेशन समिट के फाउंडर और मैनेजिंग डायरेक्टर सुनील नारनोलिया ने बताया कि इस बार जेईएस-2024 की थीम समान अधिकार सभ्य संस्कार रखी गयी है। इस समिट का मुख्य उद्देश्य बच्चों को क्या करें से पहले क्यों करें सोचना सीखना है। जेईएस-2024 के लिए रजिस्ट्रेशन फ्री है। जयपुर एजुकेशन समिट की वेबसाइट पर जाकर और ऑनस्पॉट भी रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।

उन्होंने आगे बताया कि उनके पिता लक्ष्मण राम नारनोलिया की स्मृति में लर्न फ्रॉम चेंजमेकर्स के ध्येय के साथ पिछले चार साल से समिट का आयोजन किया जा रहा है। इस आयोजन में देश-विदेश की दौ सौ से अधिक मशहूर शख्सियतें बच्चों को मोटिवेट करेंगी।

डायरेक्टर सुनील नारनोलिया ने बताया कि जीवन में अपने कार्यों के जरिए अपने अपने क्षेत्रों में अलग पहचान बनाने वाली दौ सौ से अधिक शख्सियतें स्कूल और कॉलेज के बच्चों के साथ अपने अनुभव साझा करेंगे। इस समिट में पेरेंट्स के लिए भी अलग से सेशंस रखे गए हैं जिसमें बच्चों की भावनाओं को समझने और भविष्य की संभावनाएं खोजने के लिए स्पीकर्स अपने विचार रखेंगे।

नारनोलिया ने समिट के लिए सुबोध लॉ कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. गौरव कटारिया का भी आभार जताया। उन्होंने कहा कि शिक्षा के अलावा भी अलग सोच और सामाजिक चेतना बच्चों में जाग्रत करने के उद्देश्य से ही जयपुर एजुकेशन समिट का आयोजन लगातार कराया जा रहा है।

जेईएस में होंगे सौ से ज्यादा सेशन्स

जयपुर एजुकेशन समिट 2024 में इस बार सौ से अधिक सेशन्स रखे गए हैं। पांच दिवसीय एजुकेशन समिट में हर रोज करीब बीस सेशन्स होंगे जिसमें टॉक शो, डिबेट, पैनल डिस्कशन, वर्कशॉप में दुनियाभर के दौ सौ स्पीकर मोटिवेशनल, जर्नलिज्म, एजुकेशन, लेखन, लाइफ कोचिंग, पॉलिटिक्स, एडवांस टेक्नोलॉजी, आधुनिक नवाचार, सोशल वर्किंग और नेटवर्किंग सहित अन्य विषयों पर स्टूडेंस के समक्ष अपने विचार रखेंगे।

विशेषज्ञ साझा करेंगे मंच

विभिन्न सत्रों के माध्यम से पिपलांत्री से पहचाने जाने वाले एवं इको-फेमिनिज्म के जनक पद्मश्री श्याम सुंदर पालीवाल, ड्रायलैंड एग्रोफोरेस्ट्री तकनीक के जनक पद्मश्री सुंडा राम वर्मा, दुबई से डॉ.उषा किरण, बेंगलुरु से मृदुला मोहन नायर (ईएफटी), मुंबई से ज्योती कुंडू और जोधपुर से प्रसन्न पुरी गोस्वामी सरीखे विषय विशेषज्ञ एवं मोटिवेशनल स्पीकर्स बच्चों को मोटिवेट करेंगे। कार्यक्रम में स्कूल-कॉलेज के हजारों स्टूडेंट और टीचर्स भाग ले रहे हैं।

सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से जमेगा रंग

सांस्कृतिक प्रस्तुतियां और ओपन माइक से जुड़े प्रोग्राम भी यहां रखे गए हैं जिनमें स्टूडेंट अपने हुनर का जलवा दिखा सकते हैं। डिबेट सेशन में एआई, आधुनिक भाषा एवं शब्द, धार्मिक शिक्षा, समाज में आरक्षण और प्राइवेट बनाम सरकारी इंस्टीट्यूशन आदि विषयों पर डिबेट होगी। ओपन माइक में सिंगिंग, स्टोरी टेलिंग, पोटरी,स्टैंडअप कॉमेडी के साथ समाज से जुड़े मुद्दों से जुड़े किस्से कहानियां होंगी।

सौ से अधिक अवॉर्ड

जयपुर एजुकेशन समिट में शिक्षा और सामाजिक क्षेत्र में सराहनीय कार्य करने वाले पचास टीचर्स और पचास प्रिंसिपल को सम्मानित किया जाएगा।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles