कोटा से अपहृत छात्रा जयपुर में आई नजर

जयपुर। कोटा में नीट की तैयारी कर रही युवती के अपहरण के मामले में नया मोड़ आया है। युवती का एक 18 मार्च को एक सीसीटीवी फुटेज सामने आया है, जिसमें वह दुर्गापुरा रेलवे स्टेशन नजर आई। कोटा पुलिस जांच करने जयपुर पहुंची है। सीसीटीवी के आधार पर युवती की लोकेशन के बारे में पता लगाया जा रहा है। इस मामले में अब कोटा पुलिस जयपुर के अभय कमांड सेंटर (पूरे शहर में लगे सीसीटीवी का कंट्रोल रूम) पर 18 मार्च के सभी फुटेज देख रही है। युवती की एक फुटेज अहिंसा सर्किल (जयपुर) पर भी मिला है। यहां भी वह दो युवकों के साथ दिख रही है।

दोनों युवकों ने चेहरे पर मास्क लगा रखा है। इसलिए अभी तक उनकी पहचान नहीं हो सकी है। युवती के साथ घूम रहे दोनों युवकों की फोटो कोटा पुलिस को भेजी गई है। ताकि युवती के दोस्तों, परिवार के लोगों से पहचान करवाई जा सके। मामले में राजस्थान के डीजीपी यूआर साहू ने कोटा एसपी और जयपुर कमिश्नरेट पुलिस को कॉर्डिनेशन कर जल्द से जल्द बच्ची को तलाश करने के लिए कहा है। साहू ने बताया कि इस समय उनकी एक टीम दिल्ली गई हुई है।

गौरतलब है कि शिवपुरी एमपी के बैराड़ निवासी रघुवीर धाकड़ ने 18 मार्च की रात को कोटा के विज्ञाननगर थाने में रिपोर्ट दी थी। रघुवीर बैराड़ (शिवपुरी, डच्) स्थित लार्ड लखेश्वर स्कूल के संचालक हैं। रघुवीर ने पुलिस को बताया कि मेरी बेटी काव्या धाकड़ (20) का अपहरण कर लिया गया था। 18 मार्च को दोपहर 3 बजे मेरे मोबाइल (वाट्सएप) पर बेटी की किडनैपिंग का मैसेज आया था। बेटी के हाथ-पैर और मुंह बंधा फोटो भी बदमाशों ने भेजी थी। कुछ फोटो में बेटी के चेहरे पर खून भी नजर आ रहा था।

फोटो भेजने वाले ने मैसेज में लिखा था कि रघुवीर की बेटी का अपहरण कर लिया गया है। उसे जिंदा छोड़ने के एवज में 30 लख रुपए की फिरौती मांगी गई है। मैसेज भेजने वाले ने बैंक खाते की डिटेल भी भेजी है। सोमवार शाम तक रुपए जमा करने को कहा था। मैंने इतने रुपए नहीं होने और बंदोबस्त करने के लिए समय मांगा। इसके बाद मैसेज भेजने वाले ने बेटी को जान से मारने की धमकी दी। बेटी को सितंबर 2023 में नीट की तैयारी के लिए कोटा छोड़कर गए थे। विज्ञान नगर स्थित एक कोचिंग संस्थान में उसका एडमिशन करवाया था। इसी इलाके में उसे रूम भी दिलवाया था। आखिरी बार बेटी दीपावली पर घर आई थी। उससे रोज फोन पर बात होती थी।


जयपुर से पहले ही पकड़ा जा चुका है एक युवक

मामले में पुलिस के हाथ कई अहम सुराग लगे हैं। कोटा शहर एसपी अमृता दुहन ने मंगलवार को बताया था कि पुलिस टीमों का गठन कर मामले की जांच में लगा दिया गया। जयपुर के सिंधी कैंप से अनुराग नाम के युवक को पकड़ा गया था। उससे पूछताछ चल रही है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles