एसआई भर्ती परीक्षा 2021 में पेपर लीक मामला: एसआई बनने से पहले ही गिरोह से जुड़कर लगवा रहे थे नौकरियां

जयपुर। एसआई भर्ती परीक्षा 2021 में पेपर लीक कर और डमी कैंडिडेट बैठाकर पास करने वाले 14 ट्रेनी सब इंस्पेक्टरों के घरों की जांच में कई दस्तावेज मिले है। इन दस्तावेजों से कई चौकाने वाली बातें सामने आई है। सब इंस्पेक्टरों स्वयं ही पेपर लीक या डमी कैंडिडेट बैठाकर परीक्षा पास नहीं बल्कि कई लोगों से रुपए लेकर अलग-अलग परीक्षाओं में पेपर के माध्यम से सरकारी नौकरी लगवा दी। सब इंस्पेक्टरों के घरों में मिले दस्तावेजों से सामने आया कि सब इंस्पेक्टर दलाल बन कर काम कर रहे थे। पिछले कई सालों में इन्होंने एलडीसी, यूडीसी, थर्ड ग्रेड शिक्षक, सेकंड ग्रेड, लाइब्रेरियन, वनरक्षक, कृषि और लेक्चरर की परीक्षाओं में पैसे लेकर कई रिश्तेदारों और मिलने वालों को नौकरी लगवा चुके है।

अब पुलिस इन दस्तावेज के आधार पर उन लोगों की तलाश कर रही है जो कि इनकी मदद से वर्तमान में सरकारी सेवा में है। सब इंस्पेक्टरों के पास से बड़ी संख्या में खाली चैक, ओएमआर सीट, पेपर सहित अन्य कई दस्तावेज मिले है। सब इंस्पेक्टर की नौकरी लगने के पहले से ये लोग पेपर लीक सहित अन्य माध्यमों से नौकरी लगवाने के काम में जुट हुए थे। एसओजी की राडार में 14 ट्रेनी एसआई के अलावा करीब 200 सब इंस्पेक्टर राडार पर है। एसओजी ने 14 में से 13 सब इंस्पेक्टरों के घर पर छापामारी की थी।

एडीजी ने वीके सिंह ने बताया कि जयपुर वापस लौटने के बाद रात को एसओजी की टीम ने जब्त दस्तावेजों को आरोपियों के सामने रखा। इन लोगों ने दस्तावेजों के बारे में जानकारी दी। जब्त दस्तावेज में एसओजी को इन ट्रेनी एसआई से अन्य गैंग की भी जानकारी मिली है। जो की पेपर लीक में काफी समय से एक्टिव हैं। जयपुर के जगतपुर में एसकेआईटी रोड पर श्याम रेजीडेंसी स्थित डिप्टी एसपी ओमप्रकाश गोदारा के आवास पर छापा मारा गया था। ओमप्रकाश गोदारा का बेटा करणपाल भी गिरफ्तार एसआई में शामिल है। रेड के दौरान स्थानीय पुलिस अधिकारी भी मौजूद रहे। पूरी रेड की मॉनिटरिंग डीआईजी परिस देशमुख व योगेश दाधीच ने की। जोधपुर, बाड़मेर, चूरू में भी रेड की गई थी। सभी जगह से देर रात जयपुर पहुंची।

20 आरोपियों को किया कोर्ट में पेश, भेजा रिमांड पर

एसआई भर्ती परीक्षा 2021 में पेपर लीक कर और डमी कैंडिडेट बैठाकर पास करने वाले 14 ट्रेनी सब इंस्पेक्टर (एसआई) को मंगलवार को एसओजी ने कोर्ट में पेश किया,जहां से उन्हें एक दिन के रिमांड पर भेज दिया गया। इसके अलावा सब इंस्पेक्टर जगदीश सियाग और ट्रेनी सब इंस्पेक्टर इंदुबाला को चार दिन की रिमांड पर भेजा गया। वहीं आरोपी सरगना हर्षवर्धन मीना, राजेंद्र कुमार यादव, राजेंद्र यादव और शिवरतन को 2 दिन की रिमांड पर भेजा गया है। एसआई के घरों से सोमवार मारी रेड़ में कई अहम जानकारियां सामने आई है। इन ट्रेनी एसआई के घर से कुछ अन्य अभ्यर्थियों के नाम, रोल नंबर की ओएमआर शीट, पेपर और रुपयों के लेन देन की जानकारी मिली है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles