ऑटो रिक्शा चालक की हत्या करने वाले दो हत्यारे गिरफ्तार

जयपुर। गलता गेट थाना पुलिस ने दो महीने पहले हुए ऑटो रिक्शा चालक की हत्या के मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है,वहीं तीसरा आरोपी बालसुधार गृह में बंद है। बदमाशों ने लूटने के लिए ऑटो रिक्शा किराए पर लिया था। मारपीट कर लूटपाट करने का विरोध करने पर एक ने गला दबाया तो दूसरे ने मुंह पर मुक्के मारे। इससे ऑटो चालक मजीद खान की मौत हो गई थी। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से मृतक से लूटा मोबाइल व डॉक्यूमेंट बरामद कर लिए है।

पुलिस उपायुक्त जयपुर (उत्तर) राशि डोगरा डूडी ने बताया कि गलता गेट थाना पुलिस ने पांच फरवरी 2024 की रात्रि में ऑटो चालक मजीद खान की हत्या करने के मामले में आरोपी मोहम्मद बाबुल उर्फ खुरजा बाबुल उर्फ दागिल बाबुल (55) निवासी पश्चिम बंगाल हाल ईदगाह कच्ची बस्ती गलता गेट और सोनू कुरैशी उर्फ युसुफ कुरैशी (24) निवासी सैयद कॉलोनी गलता गेट हाल खानाबदोश रामनिवास बाग लालकोठी को गिरफ्तार किया है।

वहीं हत्या में शामिल तीसरा बदमाश बालसुधार गृह में बंद है। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से मृतक का लूटा गया मोबाइल व दस्तावेज बरामद किए है। पूछताछ में सामने आया है कि नशे की लत को पूरा करने के लिए लूट की वारदात को अंजाम दिया करते है। किराए पर ऑटो रिक्शा कर चालक से सुनसान जगह पर लूटपाट करते थे। विरोध करने पर मारपीट कर भाग जाते है। पूछताछ में आरोपियों ने कई वारदात करना स्वीकार किया है। तीनों बदमाशों पर 10-10 हजार के इनाम घोषित था।

मृतक मजीद खान से लूटे गए मोबाइल के जरिए पुलिस टीम मोहम्मद बाबुल तक जा पहुंची। मोहम्मद बाबुल 1994 में मालवीय नगर इलाके में डकैती डाल चुका है। इस मामले में 18 साल जयपुर सेंट्रल जेल में सजा चुका है। पुलिस ने आरोपी के कब्जे से मोबाइल बरामद कर पूछताछ की। पूछताछ में सामने आया कि लूटा गया मोबाइल सोनू कुरैशी व उसके दोस्त से लिया है। जिन्होंने ईदगाह के पास किसी ऑटो रिक्शा चालक की हत्या कर लूटा था। पुलिस ने दबिश देकर रामनिवास बाग से बदमाश सोनू कुरैशी को पकड़ लिया। हत्या में शामिल उसके दोस्त के बाल सुधार गृह में बंद होने का पता चला।

पूछताछ में सामने आया कि 5 फरवरी की दोपहर उसने अपने दोस्त के साथ सिंधी कैंप से मजीद खान का ऑटो रिक्शा किराए पर लिया था। इधर-उधर घुमाने के बाद भी रास्ते में उन्हें लूटने का मौका नहीं मिला। इसके बाद चालक मजीद खान को ईदगाह बस स्टैंड चलने को कहा। ईदगाह पहुंचने पर ऑटो रिक्शा को दो बसों के बीच आड़ में लगाने का कहा। बसों की आड़ में ऑटो रिक्शा खड़ा करते ही पीछे बैठे सोनू कुरैशी ने उसका गला दबाया।

उसके साथी ने ऑटो रिक्शा चालक मजीद की जेब से 1200 रुपए, मोबाइल व दस्तावेज निकाल लिए। चालक मजीद के विरोध करने पर दूसरे बदमाश ने उसके मुंह पर मुक्के मारे। ऑटो में लगे मीटर के सरिए पर सिर लगने से मजीद बुरी तरह लहूलुहान हो गया था। धौलपुर निवासी मजीद खान (45) निवासी की हत्या हुई थी और वह खोह नागोरियान में किराए से रहकर ओला-उबर कंपनी में ऑटो रिक्शा चलाते था। 5 फरवरी को शाम करीब 7.30 बजे लहूलुहान हालत में मजीद ईदगाह के पास रोड किनारे अपने ऑटो के नीचे पड़े मिले। खून से लथपथ हालत में मजीद को उसके ऑटो में लेकर राहगीर थाने पहुंचा था पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती करवाया था, जहां पर उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई थी।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला था हत्या का

मजीद के मुंह-सिर पर चोट के निशान मिले थे। दोनों आंखें गहरी नीली व सूजी हुई थी। मुंह-नाक से खून बह रहा था। पीछे सिर पर भी चोट लगी हुई थी। स्ट्रैचर व कपड़े भी खून से सने हुए थे। जांच में सामने आया है कि मुंह-सिर पर कई बार मारा गया है। हत्या के शक पर मेडिकल बोर्ड के जरिए पोस्टमॉर्टम करवाया गया है। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में मजीद की मौत का कारण गला दबाने से होना सामने आया।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles