अटल बिहारी वाजपेयी की 99वीं जन्म जयंती पर अनूठी सवामणि , 2000 गायों को कराई 21 सवा मानी

जयपुर। युग पुरुष पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की 99वीं जन्म जयंती पर पहली बार एक अनूठी सवामणि का आयोजन किया गया। शहर ही नहीं संभवत पूरे राज्य में ऐसा आयोजन पहली बार हुआ है। रवि फाउंडेशन व हैनिमैन चैरिटेबल मिशन सोसाइटी की ओर से यह सवामणि महोत्सव लोगों के लिए नहीं बल्कि गौ माता के लिए आयोजित किया गया। पिंजरापोल गौशाला स्थित सनराइज औषधी पार्क में आयोजित इस महोत्सव की खास बात यह रही कि गायों को उनकी पसंद की प्रसादी परोसी गई। इसमें प्रमुख रूप से खजूर, पंचमेवा, गुड़, मेथी, तिल, तिल की खली गायों के भोजन में शामिल की गई।

रवि फाउंडेशन के अध्यक्ष पुलकित भारद्वाज ने बताया कि ये सभी खाद्य सामग्री गायों का सर्दी से बचाव तो करेंगी ही उनके स्वास्थ्य को भी अच्छा रखेंगी, इसी मकसद से सवामणि का यह आयोजन किया गया। इसके साथ ही गायों को चूरमा दाल बाटी भी खिलाया गया। इस महोत्सव के तहत 2000 गायों के लिए 21 सवाणियां एक साथ की गई। इसमें करीब 1100 किलो खाद्य सामग्री शामिल की गई। कार्यक्रम में शहर की कई संस्थाओं ने सहयोग किया।

मंत्रोच्चारण के बीच गायों के चरण पूजन और की महाआरती

कार्यक्रम के सह संयोजक हेनिमैन चेरिटेबल ट्रस्ट के डॉ. अतुल गुप्ता ने बताया कि सर्वप्रथम गायों के चरण धोए गए। पंडित दिनेश मिश्रा ने मंत्र उच्चारण के साथ गायों का पूजन कराया। महोत्सव में शामिल गोभक्तों ने गो माताओं को प्रसादी परोसी। उन्हें चूरमा, दाल, बाटी भी खिलाया गया। प्रसादी के बाद गायों की पाचन क्रिया का ध्यान रखते हुए उन्हें खजूर की गुठलियों से निर्मित पौष्टिक वैदिक कॉफी भी पिलाई गई। प्रसादी करने के बाद गाय के गौबर के वैदिक दीयों से महाआरती की गई।

गायों के थान को गुब्बारों से सजाया

रामराज्य चेरिटेबल ट्रस्ट के संस्थापक अध्यक्ष जगदीश पंचारिया ने बताया कि पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी की जन्म जयंती होने से गायों के थान को गुब्बारों से सजाया गया। उनके चित्र पर माल्यार्पण कर सभी ने पुष्पांजलि अर्पित की। इस मौके पर सनातन संस्कृति रक्षक संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुभाष पराशर, विश्व हिंदू परिषद के प्रांत मंत्री अशोक डीडवानिया, रवि फाउंडेशन की महासचिव मोनिका गुप्ता, सह सचिव पंकज गोयल, कोषाध्यक्ष राजेश कुलवाल, प्रवक्ता गीता झालानी व चंद्रमोहन झालानी सहित सकड़ों लोगों ने गायों को प्रसादी कराई।

तुलसी के पौधे बांटे, दीप प्रज्वलन का दिलाया संकल्प

सवामणि महोत्सव में तुलसी दिवस भी मनाया गया। इस मौके पर कार्यक्रम में शामिल सभी लोगों को तुलसी का पौधा वितरित किया गया । साथ ही उनसे यह संकल्प लिया कि वे सनातन में पूजनीय इस तुलसी पौधे को न केवल लगातार संचित करेंगे बल्कि नियमित रूप से इसका पूजन कर प्रतिदिन एक दीपक अवश्य तुलसी के निमित्त संध्या में जरूर प्रज्वलित करेंगे। भारद्वाज ने बताया कि गौ माता की ये सवामणियां नए वर्ष के साथ ही अयोध्या में रामलाल के प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव और मकर संक्रांति के उपलक्ष्य में 1 से 22 जनवरी तक लगातार की जाएंगी। शहर की सभी गौशालाओं में ये सवामणियां की जाएंगी।

वाजपेयी के व्यक्तित्व और कृतित्व को किया याद

भारतीय जैविक किसान उत्पादक संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. अतुल गुप्ता ने कहा कि अटल जी का पूरा जीवन राष्ट्र को समर्पित रहा है और हमेशा हिंदी और राष्ट्र की संस्कृति को बढ़ावा देने का काम किया और वह एक अजय राजनेता थे अटल जी की जन्म जयंती अवसर पर इतना ही कहूंगा अटल जी एक महा मानव थे जब पहली बार धोती कुर्ता पहन कर संयुक्त राष्ट्र में हिंदी में भाषण दिया विपक्ष के नाते जब भी इनको मौका मिला यह हिंदी को बढ़ावा को दिया राष्ट्र के संस्कृति को बढ़ावा दिया और यह कवि के रूप में कवि हृदय के साथ-साथ एक अजय राजनेता भी थे जिनका कोई आलोचक नहीं था। इस दौरान पौद्दार एज्युकेशन इंस्टीटयूट ऑफ मैनेजमेंट के चैयरमैन डॉ. आनंद पोद्दार, हरीश ओझा, एडवोकेट मुनीष कुमार शर्मा, एसीपी राजेंद्र गुप्ता भी मौजूद रहे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles