सीबीआई की कार्रवाईः यूको बैंक से जुड़े 820 करोड़ के संदिग्ध आईएमपीएस लेनदेन से संबन्धित मामले की सात शहरों में 67 स्थानों पर ली तलाशी

जयपुर। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने यूको बैंक के कई खातों से लगभग 820 करोड़ रुपये के संदिग्ध आईएमपीएस (तत्काल भुगतान सेवा) लेनदेन से संबंधित मामले में राजस्थान एवं महाराष्ट्र के सात शहरों में 67 स्थानों पर तलाशी अभियान चलाया गया। सीबीआई ने यूको बैंक से प्राप्त शिकायत के आधार पर 21 नवम्बर 2023 को मामला दर्ज किया था। यह आरोप है कि 10 नवम्बर 2023 से 13 नवम्बर 2023 के मध्य सात निजी बैंकों के लगभग 14 हजार 600 खाताधारकों से शुरू किए गए आईएमपीएस आवक लेनदेन को 41 हजार से अधिक यूको बैंक खाताधारकों के खातों में गलत तरीके से भेजा गया था। इसके परिणाम स्वरूप 820 करोड़ रुपये मूल बैंकों से वास्तविक डेबिट किए बिना ही यूको बैंक खातों में जमा हुए।

कई खाताधारकों ने इस स्थिति का फायदा उठाया एवं विभिन्न बैंकिंग चैनलों के माध्यम से धन निकालकर गलत लाभ कमाया। इससे पूर्व दिसंबर 2023 में कोलकाता एवं मैंगलोर में निजी व्यक्तियों तथा यूको बैंक के अधिकारियों से जुड़े 13 स्थानों पर तलाशी ली गई।

इसी कडी में राजस्थान (जोधपुर, जयपुर, जालौर, नागौर, बाड़मेर, फलौदी सहित) एवं पुणे (महाराष्ट्र) में व्यापक तलाशी अभियान चलाए गए। इन अभियानों-ऑपरेशनों के दौरान यूको बैंक और आईडीएफसी से संबंधित लगभग 130 आपत्तिजनक दस्तावेज, साथ ही 43 डिजिटल डिवाइस (40 मोबाइल फोन, 2 हार्ड डिस्क तथा 1 इंटरनेट डोंगल सहित), फोरेंसिक विश्लेषण के लिए जब्त किए गए। इसके साथ ही 30 संदिग्धों को भी मौके पर ढूंढकर जांच की गई।

तलाशी अभियान के सुचारू संचालन को सुनिश्चित करने के लिए सशस्त्र बलों सहित 120 राजस्थान पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया था। इसके अलावा 130 सीबीआई अधिकारियों सहित 210 कार्मिक की 40 टीमों एवं विभिन्न विभागों के 80 स्वतंत्र गवाह भी ऑपरेशन में संलग्न थे। इस मामले में जांच जारी

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles