June 18, 2024, 1:31 pm
spot_imgspot_img

सीआईडी क्राइम ब्रांच ने हिस्ट्रीशीटर सहित 3 तस्करों को किया गिरफ्तार

जयपुर। सीआईडी क्राइम ब्रांच की स्पेशल टीम के द्वारा मादक पदार्थ तस्करों के विरूद्ध की जा रही कार्रवाई के तहत जोधपुर जिले की बिलाड़ा थाना पुलिस ने लोहावट थाने के एक हिस्ट्रीशीटर सहित 3 तस्करों से 450 किलो उच्च क्वालिटी का अवैध मादक पदार्थ अफीम डोडा-पोस्त सहित 02 अवैध हथियार मय 4 कारतूस बरामद कर तस्करी में प्रयुक्त 02 चौपहिया वाहनों को जब्त किये है।

अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस अपराध दिनेश एमएन ने बताया कि सीआईडी के हैड कांस्टेबल राकेश जाखड को मुखबीर खास से सूचना मिलने पर आईजी क्राइम प्रफुल्ल कुमार के पर्यवेक्षण में एडिशनल एसपी नरोत्तम वर्मा व राजेश मलिक के सुपरविजन एवं एसआई सुभाष सिंह के नेतृत्व में हेड कांस्टेबल महेश हैड कानि., रविन्द्र सिंह, राकेश व कांस्टेबल नरेश की टीम गठित कर मुखबीर की सूचना के आधार पर जोधपुर रेंज की तरफ रवाना किया गया।

जोधपुर में टीम को सूचना मिली की एक सफेद रंग की क्रेटा व एक स्वीफ्ट कार में मादक पदार्थ भरा हुआ है जो ब्यावर की तरफ से जोधपुर जायेगी जिस पर सीओ बिलाडा को सूचना दी गई । सीओ बिलाडा व एसएचओ बिलाडा द्वारा नाकाबन्दी की गई। नाकाबन्दी के दौरान दोनों गाडियों को रूकवाने का ईशारा किया गया तो दोनों वाहन चालक नाकाबन्दी तोड पुलिस टीम पर फायर कर भागने लगे।

एडीजी एमएन ने बताया कि पुलिस द्वारा तस्करों का पीछा किया गया तो तस्कर गाडियों को छोड़कर भागने लगे, पुलिस टीम की सुझबूझ से जवाबी कार्यवाही में 03 तस्करों को दबोच लिया गया। उपरोक्त दोनो गाडियों को चैक किया गया तो उनमें 450 किलो मादक पदार्थ अफीम डोडा भरा मिला।

थाने पर लाकर तीनों तस्करों हडमाना राम पुत्र लुणाराम निवासी भाखरी, लोहावट, महेश विश्नोई पुत्र ओमप्रकाश निवासी फलौदी व श्रवण विश्नोई पुत्र भागीरथ निवासी कापरड़ा से कुल 450 किलो अवैध मादक पदार्थ अफीम डोडा-पोस्त सहित 02 अवैध हथियार एक 12 बोर बन्दूक व एक पिस्टल बरामद कर तस्करी में प्रयुक्त दोनो वाहनों को जब्त कर तीनों को गिरफ्तार किया गया है। तस्कर हडमानाराम के पूर्व में राज्य के अलग-अलग पुलिस थानों पर कुल 35 प्रकरण तस्करी आर्म्स व आबकारी एक्ट के दर्ज है।

आरोपी पुलिस थाना लोहावट जिला फलोदी का हिस्ट्रीशीटर है। उपरोक्त सम्पूर्ण कार्यवाही पर पुलिस थाना बिलाडा में जोधपुर ग्रामीण में एनडीपीएस एक्ट में प्रकरण पंजीबद्ध कर अग्रिम अनुसंधान जारी किया गया है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles