कॉन्वेजीनियस ने 100 मिलियन विद्यार्थियों को बेहतर शिक्षा देने के लिए एडब्लूएस पर स्विफ्टचैट कन्वर्सेशनल एआई प्लेटफॉर्म का विकास किया

नई दिल्ली। अमेज़न वेब सर्विसेज (एडब्लूएस) इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने बताया कि इंडियन एजुकेशन टेक्नोलॉजी (एडटेक) सोशल एंटरप्राइज, कॉन्वेजीनियस ने एडब्लूएस पर सरकारी स्कूलों और कम फ़ीस वाले प्राइवेट स्कूलों के लिए एक कन्वर्सेशनल आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) चैटबॉट प्लेटफॉर्म, स्विफ्टचैट का विकास किया है। विश्व की इस अग्रणी क्लाउड सेवा के साथ स्विफ्टचैट का उद्देश्य भारत में 100 मिलियन से ज़्यादा विद्यार्थियों को 13 क्षेत्रीय भाषाओं में पर्सनालाइज्ड लर्निंग सामग्री प्रदान करने वाले 53 से अधिक कन्वर्सेशनल एआई चैटबॉट्स का उपयोग कर के-12 स्कूल के विद्यार्थियों के अध्ययन में सुधार लाना है।

19 मिलियन डिवाइसेज में 124 मिलियन विद्यार्थियों के प्रोफाइल के साथ स्विफ्टचैट प्लेटफॉर्म का उपयोग करके सरकारी स्कूल एक ऑम्नीचैनल चैटबॉट बना सकते हैं, जो विद्यार्थियों को पर्सनालाइज्ड लर्निंग जैसे क्यूरेटेड वीडियो और सिंगल एआई-इनेबल्ड चैटबॉट संवाद द्वारा कंटेंट को पढ़ने में मदद करता है। पर्सनालाइज्ड लर्निंग के अलावा, स्विफ्टचैट स्कूल प्रशासकों को शिक्षक प्रशिक्षण एवं डेटा पर आधारित निर्णय लेने में समर्थ बनाता है, जिसमें एक स्वस्थ शिक्षक-विद्यार्थी अनुपात सुनिश्चित करने के लिए स्कूल में संसाधन की ज़रूरतों का अवलोकन करने और उन्हें पूरा करने की क्षमता भी शामिल है।

भारत के नेशनल करिकुलम फ्रेमवर्क फॉर स्कूल एजुकेशन 2023 ने पूरे देश के विद्यार्थियों को स्कूल में बेहतर प्रदर्शन करने में मदद करने के लिए पर्सनालाइज्ड लर्निंग को प्राथमिकता दी है। एडब्लूएस के साथ, कॉन्वेजीनियस भारत में राज्य सरकारों को विद्या समीक्षा केंद्र (वीएसके) उपलब्ध कराने में मदद कर रहा है। यह एक केंद्रीकृत सिस्टम है, जो विद्यार्थी के नामांकन, भागीदारी और लर्निंग की प्रगति पर नज़र रखने में मदद करता है। वीएसके अध्ययन सामग्री उपलब्ध कराता है, और पूरे भारत में 1.5 मिलियन सरकारी स्कूलों के 9.5 मिलियन शिक्षकों का सहयोग करता है।

कॉन्वेजीनियस द्वारा विकसित वीएसके टूलकिट, जिसमें स्विफ्टचैट प्लेटफॉर्म पर कई संवादपूर्ण एआई चैटबॉट हैं, के गुजरात में सफल पायलट के बाद इसे गोवा, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और उत्तराखंड सहित भारत के 14 राज्यों में स्थापित किया गया है। स्विफ्टचैट स्कूलों से विभिन्न डेटा बिंदुओं को कैप्चर करता है, जो राज्य में पढ़ने, समझने और अंकगणित के कौशल जैसे क्षेत्रों में विद्यार्थियों की लर्निंग में आने वाली कमी के बारे में जानकारी देते हैं, और उन्हें स्कूल, ब्लॉक एवं जिला स्तर पर शिक्षा में सुधार लाने में समर्थ बनाता है।

कॉन्वेजीनियस ने अपने स्विफ्टचैट प्लेटफॉर्म को 2021 में पिछले क्लाउड प्रदाता से एडब्लूएस में माइग्रेट किया था, जिससे इसे अपने यूज़र्स की संख्या में 154 गुना वृद्धि के लिए तेजी से विस्तार करने में मदद मिली। कॉन्वेजीनियस ने अमेज़न इलास्टिक कंप्यूट क्लाउड (ईसी2) का उपयोग करके अपनी आईटी इन्फ्रास्ट्रक्चर की लागत में 45% की कमी भी लायी, जिससे इसे किसी भी वर्कलोड के लिए सुरक्षित और स्केलेबल कंप्यूट क्षमता मिली।

इस एडटेक ने लागत को और कम करने के लिए एडब्लूएस के साथ मिलकर काम किया, और एडब्लूएस ग्रेविटेशन2 प्रोसेसर का उपयोग किया, जिससे अमेज़न ईसी2 पर क्लाउड वर्कलोड के लिए सर्वोत्तम मूल्य परफॉरमेंस मिली। इन सभी उपायों की मदद से कॉन्वेजीनियस अपने आईटी इन्फ्रास्ट्रक्चर की लागत में 45% बचत करने में समर्थ बना।

जयराज भट्टाचार्य, को-फाउंडर एवं सीईओ, कॉन्वेजीनियस ने कहा, “स्विफ्टचैट लाखों विद्यार्थियों और शिक्षकों को पर्सनालाइज्ड लर्निंग एवं डेटा पर आधारित जानकारी प्रदान करता है, और हम एडब्लूएस की क्लाउड सेवाओं द्वारा 100 मिलियन से अधिक विद्यार्थियों तक पहुंचने एवं लागत में 45% बचत प्राप्त करने में समर्थ बने हैं।” उन्होंने कहा, “चैटबॉट प्लेटफ़ॉर्म भारत के शिक्षा क्षेत्र में परिवर्तन ला देगा। यह कई भाषाओं में व्यक्तिगत जानकारी और संसाधन उपलब्ध कराता है, जिससे शिक्षक के प्रशिक्षण सुधार आता है, और स्कूलों में संसाधनों का प्रभावशाली आवंटन संभव होता है।

एडब्लूएस के साथ हमने पूरे भारत में लर्निंग को अधिक प्रभावशाली बनाने के लिए अपने समाधान का तेजी से विकास, विस्तार, कर उसे सुरक्षित किया है। हम विद्यार्थियों को ज़्यादा लाभ देने के लिए जेनरेटिव एआई जैसी आकर्षक टेक्नोलॉजीज का उपयोग करते हुए एडब्लूएस पर विकास करते रहने के लिए आशान्वित हैं।”

पंकज गुप्ता, लीडर – पब्लिक सेक्टर (गवर्नमेंट, एजुकेशन, हेल्थकेयर ), एडब्लूएस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने कहा, “एडब्लूएस द्वारा पॉवर्ड कन्वेजीनियस का इनोवेटिव स्विफ्टचैट प्लेटफॉर्म भारत में के-12 शिक्षा में परिवर्तन ला रहा है और भारत के सरकारी स्कूल के बच्चों को एक गतिशील और व्यक्तिगत लर्निंग का अनुभव प्रदान कर रहा है।” उन्होंने बताया, “लेटेस्ट एआई और डेटा एनालिटिक्स टूल सहित क्लाउड टेक्नोलॉजीज, पारंपरिक कक्षाओं की सीमाओं का विस्तार कर रही हैं, और सहयोगात्मक लर्निंग की नई सम्भावनाएँ प्रदान कर रही हैं।

एडब्लूएस द्वारा पॉवर्ड कॉन्वेजीनियस का इनोवेटिव स्विफ्टचैट प्लेटफॉर्म सरकारी स्कूल के बच्चों पर्सनालाइज्ड लर्निंग प्रदान कर भारत में के-12 शिक्षा में परिवर्तन ला रहा है। स्विफ्टचैट परिवर्तन का एक शक्तिशाली उत्प्रेरक है, जो भारत में 100 मिलियन से ज़्यादा विद्यार्थियों के जीवन में सुधार ला रहा है, और सरकार के समावेशी एवं समान गुणवत्ता की शिक्षा प्रदान करने के उद्देश्य में मदद कर रहा है।”

ई-लर्निंग समाधान की व्यापक उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए कॉन्वेजीनियस को एक चुस्त और स्केलेबल वातावरण चाहिए था, जिस पर यह अपने चैटबॉट प्लेटफॉर्म को होस्ट कर सके। एक क्लाउड डेटा वेयरहाउस, अमेज़न रेडशिफ्ट की मदद से कॉन्वेजीनियस लर्निंग में सुधार लाने के लिए ज़रूरी कार्रवाई का सुझाव देने के लिए विद्यार्थी की उपस्थिति, व्यवहार, प्राथमिकताएं, प्रोफ़ाइल जानकारी और कोर्सवर्क जैसे स्कूल के डेटा का विश्लेषण कर सकता है। एक क्लाउड-आधारित बिजनेस इंटेलिजेंस सेवा, अमेज़न क्विकसाइट की मदद से कॉन्वेजीनियस यूजर-फ्रेंडली, कस्टमाइज़ेबल और इंटरैक्टिव विज्युअल डैशबोर्ड बनाता है जो प्रशासकों और शिक्षकों के लिए विस्तृत स्कूल डेटा को समझना आसान बना देता है।

कॉन्वेजीनियस एडब्लूएस शील्ड एडवांस्ड, एडब्लूएस डब्लूएएफ़, एडब्लूएस की-मैनेजमेंट सर्विस (एडब्लूएस केएमएस), अमेज़न गार्ड ड्यूटी और एडब्लूएस सिक्योरिटी हब जैसी एडब्लूएस सिक्योरिटी सेवाओं का भी उपयोग करता है, जो विद्यार्थी और स्कूल के डेटा को सुरक्षित रखते हुए कंपनी की शैक्षिक पेशकशों को सुगमता से चलाने में मदद करती हैं।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles