एक करोड़ के मिल्क पाउडर धोखाधड़ी में अंतर्राज्यीय मेवात गैंग के चार तस्कर गिरफ्तार

जयपुर/दौसा । दौसा जिले की थाना महवा,डीएसटी व साइबर सेल की टीम ने मिल्क पाउडर के 1200 कट्टो (30 टन) की धोखाधड़ी का मात्र दस दिनों में खुलासा करते हुए मेवात गैंग के चार सदस्यों अकरम मेव पुत्र खलील, साबिर मेव पुत्र अब्दुल गफ्फार व जुबेर मेव पुत्र उस्मान निवासी थाना बिछोर जिला नूंह मेवात एवं साजिद मेव पुत्र सुलेमान निवासी थाना नगीना जिला नूंह मेवात हरियाणा को गिरफ्तार किया है।

एसपी वन्दिता राणा ने बताया कि घटना के संबंध में टिकरी जाफरान स्थित दाऊजी मिल्क फूड प्राइवेट लिमिटेड के मैनेजर अशोक कुमार द्वारा थाना महवा पर रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी कि 6 जनवरी को उन्होंने ट्रक में 1200 बैग मिल्क पाउडर (30 टन) लोड कर हरियाणा मिल्क फूड लिमिटेड पेहवा कुरूक्षेत्र के लिए रवाना किया था। उसके बाद ड्राइवर माल सहित लापता है और उसका मोबाइल नम्बर भी बंद आ रहा है। रिपोर्ट पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की गई।

800-900 सीसीटीवी फुटेज खंगाले

घटना के संबंध में सीओ प्रेम बहादुर निर्भय के सुपरविजन एवं एसएचओ जितेंद्र सिंह सोलंकी के नेतृत्व में गठित टीम द्वारा रूट मार्ग चिन्हित कर करीब 500 किलोमीटर क्षेत्र में 800 से 900 सीसीटीवी कैमरों की फुटेज व टोल नाकों पर आने जाने वाले वाहनों के फुटेज खंगाले।

तीन राज्यों के 25 से ज्यादा शहरों में की तलाश

सीसीटीवी एनालिसिस के आधार पर गठित टीम द्वारा जिला दौसा, अलवर, भरतपुर, जयपुर शहर, जयपुर ग्रामीण के आंधी, शाहपुरा, मनोहरपुर, जिला नीमकाथाना में अजीतगढ़, शेखावाटी, जिला सीकर, जिला झुंझुनू में गुड़ागौड़ जी, उदयपुरवाटी, नवलगढ़, हरियाणा के नूंह, नगीना, तावडू, हथीन, उटावड़, पलवल, बीछोर, गुरुग्राम, नोएडा, होडल, पलवल, बिलासपुर एवं दिल्ली में सन्दिग्ध आरोपियों व ट्रक की पहचान के प्रयास किए गए।

अन्य जिलों व अन्य राज्यों के सक्रिय सन्दिग्ध अपराधियों के संबंध में आसूचना संकलन कर साइबर सेल की तकनीकी सहायता व सीसीटीवी फुटेज के एनालिसिस से घटना का खुलासा कर पुलिस ने मेवात गैंग के सक्रिय चार आरोपियों को गिरफ्तार किया।

2 महीने पहले गुडागौड़जी में लिया किराए का गोदाम

मेवात गैंग के सक्रिय अंतर्राज्यीय सरगना जैद अहमद व ट्रक चालक राहुल मेव द्वारा घटनाक्रम को अंजाम देने से 2 महीने पहले ही फ्लिपकार्ट के सामान की सप्लाई के नाम से थाना गुडागौड़जी जिला झुंझुनू के सिगनोर गांव में किराए का गोदाम ले लिया था।

जीपीएस व फास्ट्रेग् चेंज कर गौदाम में लाये ट्रक

हरियाणा में सप्लाई के लिए लेकर निकले मिल्क पाउडर से भरे ट्रक का ट्रांसपोर्टर फोरमैन अकरम मेव और साजिद मेव ने जीपीएस सिस्टम को बंद कर फास्टैग सिस्टम चेंज कर दिया। उसके बाद किराए पर लिए गए गोदाम में माल शिफ्ट कर दिया गया और खाली ट्रक अलवर के कुशालगढ़ में खड़ा कर दिया।

नवलगढ़ से बरामद किया 1 करोड़ का मिल्क पाउडर

इस बीच पुलिस की भनक लगते ही बदमाशों ने सिगनोर गोदाम से माल को नवलगढ़ में शिफ्ट कर दिया था। गिरफ्तार आरोपियों की सूचना पर पुलिस ने शुक्रवार को नवलगढ़ से 1153 कट्टे मिल्क पाउडर बरामद करने में सफलता हासिल की।

सरगना सहित 8 की तलाश

गिरोह के सरगना जैद अहमद सहित राहुल मेव, साबुद्दीन मेव निवासी नूंह मेवात, आरिफ मेव निवासी थाना नौगांवा अलवर, कपिल जाट निवासी सिगनोर थाना गुडागौड़जी, सतवीर व 2 अन्य अज्ञात को पुलिस तलाश कर रही है। गिरोह के सरगना जैद अहमद के विरुद्ध पूर्व में राजस्थान व हरियाणा में 21 अपराधिक प्रकरण दर्ज है।

इस घटना के खुलासे में थाना महवा के कांस्टेबल बने सिंह व साइबर सेल के कांस्टेबल अजय सिंह की विशेष भूमिका रही। मामले में सीओ प्रेम सिंह निर्भय व एसएचओ जितेंद्र सिंह के नेतृत्व में थाना महवा, डीएसटी व साइबर सेल से 28 पुलिसकर्मियों की टीम गठित की गई थी।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles