June 19, 2024, 2:54 am
spot_imgspot_img

जीजेसी ने लॉन्च किया भारत का सबसे बड़ा शॉपिंग फेस्टिवल- ’इंडिया ज्वेलरी शॉपिंग फेस्टिवल, 2023’

जयपुर। ऑल इंडिया जेम एंड ज्वेलरी डोमेस्टिक काउंसिल (जीजेसी), जो कि ज्वेलरी मैन्युफैक्चरर्स, थोक विक्रेताओं, खुदरा विक्रेताओं और निर्यातकों को एकजुट करने वाली सर्वोच्च व्यापारिक संस्था है, ने जयपुर में ज्वेलरी शॉपिंग फेस्टिवल (आईजेएसएफ) के लॉन्च की घोषणा की है। उक्त लॉन्च 15 अक्टूबर से 22 नवंबर तक देशभर के 300 शहरों में किया जाएगा। डिवाइन सॉलिटेयर्स इस आयोजन का प्रायोजक है। बॉलीवुड अभिनेत्री सुश्री प्रीति झंगियानी ने अपनी गरिमामयी उपस्थिति से लॉन्च कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई, जो मोहब्बतें और आवारा पागल दीवाना जैसी फिल्मों के लिए मशहूर हैं।

इस फेस्टिवल से सिर्फ बी2बी ही नहीं, बल्कि बी2सी सेगमेंट को भी लाभ पहुँचेगा। व्यवसाय विशेष के मालिक इस फेस्टिवल का हिस्सा बन सकते हैं, जिसके लिए उन्हें नामांकन शुल्क का भुगतान करना होगा और उनके लिए उपलब्ध विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से एक का चयन करना होगा। इसके तहत 25000 रु. की किसी भी खरीदारी पर उन्हें एक सुनिश्चित कूपन और सीमित संस्करण वाला चांदी का सिक्का प्रदान किया जाएगा।

पुरस्कार के रूप में विजेताओं को 35 करोड़ रु. की ज्वेलरी दी जाएगी। 5000 कूपन के प्रत्येक सेट पर विभिन्न शानदार पुरस्कार शामिल हैं, जिसमें से एक पुरस्कार 25 ग्राम सोने का सिक्का है। अन्य उपहारों में 1-1 किलो सोने के 5 पुरस्कार, 10-10 लाख की जड़ाऊ ज्वेलरी के 5 पुरस्कार, 10-10 लाख की टेम्पल ज्वेलरी के 5 पुरस्कार, 5-5 लाख की हीरे और कीमती पत्थर जड़ित ज्वेलरी के 10 पुरस्कार, 2.5 लाख मूल्य के सोने की ज्वेलरी के 10 पुरस्कार और डिवाइन सॉलिटेयर्स की ओर से हीरे जड़ित सोने के सिक्के के 100 पुरस्कार शामिल हैं।

दिनेश जैन, जीजेसी के निदेशक और आईजेएसएफ संयोजक ने कहा, “आईजेएसएफ को उम्मीद है कि यह 200 से अधिक शहरों से हिस्सा लेने वाले 3000 खुदरा विक्रेताओं के माध्यम से 1,20,000 करोड़ रु. का व्यवसाय उत्पन्न करेगा। मोटे तौर पर यह लगभग 30-35 प्रतिशत की व्यवसाय वृद्धि है। साथ ही, यह भी उम्मीद है कि इस फेस्टिवल के माध्यम से ज्वेलरी इंडस्ट्री में रोजगार के बड़े अवसर उत्पन्न होंगे। हमारे माननीय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा की गई डिजिटल इंडिया पहल को ध्यान में रखते हुए, आईजेएसएफ का आयोजन डिजिटल रूप से भी किया जाएगा।

इसके माध्यम से देश भर से और विदेशों से ज्वेलरी प्रेमी ऑनलाइन स्टोर के जरिए इस आयोजन में हिस्सा ले सकेंगे। इस फेस्टिवल में हिस्सा लेने वाले ऑनलाइन स्टोर्स के माध्यम से देश के बाहर रहने वाले 4 करोड़ एनआरआई भाग ले सकेंगे। आगामी इंडिया ज्वेलरी शॉपिंग फेस्टिवल की योजना इस तरह से बनाई गई है कि यह सिर्फ ज्वेलरी इंडस्ट्री को ही बढ़ावा नहीं देगा, बल्कि ज्वेलर्स और उनकी उच्च गुणवत्ता वाली ज्वेलरी में ग्राहकों के विश्वास को भी बहाल करेगा, क्योंकि यह समग्र सामाजिक सुरक्षा में योगदान देने वाले सबसे सुरक्षित और लंबे समय तक चलने वाला निवेश है। आईजेएसएफ सर्वोत्तम व्यावसायिक प्रथाओं का पालन करेगा, ताकि पारदर्शिता सुनिश्चित की जा सके और विश्वसनीयता बनाई रखी जा सके।“

सैयाम मेहरा, चेयरमैन, जीजेसी, ने कहा, “आईजेएसएफ समस्त ज्वेलरी व्यापारियों के लिए एक संभावित स्थान है, जिसमें इंडस्ट्री के महत्वपूर्ण व्यापारियों की विशेष रुचि देखी गई है। यह आयोजन ग्राहकों और निर्माताओं दोनों के लिए फायदेमंद है। ऐसे में, यह ज्वेलर्स के लिए उनकी बिक्री को बढ़ावा देने का शानदार मौका है। इस बीच चयनित ज्वेलरी को खरीदार शादियों और अन्य समारोहों जैसे महत्वपूर्ण कार्यक्रमों के लिए रखते हैं।

जेम एंड ज्वेलरी काउंसिल का अनुमान है कि इस आयोजन में भारी आय क्षमता की गारंटी देने वाली संपूर्ण मूल्य श्रृंखला शामिल होगी। यह आयोजन सिर्फ व्यवसायों को ही प्रोत्साहित नहीं करता है, बल्कि ग्राहकों को भी पुरस्कृत करता है। इसके अलावा, यह स्थापित व्यावसायिक रणनीतियों के साथ प्रतिष्ठित ज्वेलर्स के उपयोग को प्रोत्साहित करके व्यावसायिकता और मानक व्यावसायिक प्रथाओं के पालन को बढ़ावा देता है।“

मनोज झा, संयुक्त संयोजक, ने कहा, “इस फेस्टिवल के माध्यम से सम्पूर्ण ज्वेलरी इंडस्ट्री के साथ ही साथ ग्राहकों को भी लाभ होगा। आईजेएसएफ आकर्षक ऑफर्स की पेशकश कर रहा है और साथ ही ग्राहकों को पुरस्कार के रूप में 40 किलोग्राम तक सोना जीतने का मौका दे रहा है। इतना ही नहीं, ग्राहक लगभग 3 करोड़ रु. की ज्वेलरी और डिवाइन सॉलिटेयर डायमंड से जड़ित 100 सोने के सिक्के भी जीत सकते हैं। जैसा कि भारत स्वतंत्रता के 75 वर्ष मना रहा है, हम स्मारिका के रूप में लगभग 3000 किलोग्राम विशेष संस्करण अमृत महोत्सव चांदी के सिक्के प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं, जो 25000 रु. की प्रत्येक खरीद पर ग्राहकों को उपहार के रूप में वितरित किए जाएँगे।

नियमित आधार पर 25 ग्राम सोना प्राप्त करने के अतिरिक्त 1 किलोग्राम सोना जीतना काफी रोमांचक होने वाला है। इस मार्केटिंग के माध्यम से इंडस्ट्री को पूरे त्योहारी सीज़न में फायदा होगा। हमने प्रक्रिया सलाहकार ईएंडवाई के साथ साझेदारी की है, जो डिजिटल प्रक्रिया को मॉनिटर करेगा, ताकि पूर्ण पारदर्शिता सुनिश्चित की जा सके।“

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles