एक से तीन मार्च तक आरआईसी में होगा पिंक फेस्ट : तीन दिवसीय फेस्टिवल में विजुअल आर्ट, लिटरेचर और परफॉर्मिंग आर्ट का समागम

जयपुर। भारत के सांस्कृतिक वैभव की छटा बिखेरने के लिए राजस्थान इंटरनेशनल सेंटर में एक से तीन मार्च तक तीसरे पिंक फेस्टिवल का आयोजन किया जा रहा है। तीन दिवसीय फेस्टिवल में विजुअल आर्ट, लिटरेचर और परफॉर्मिंग आर्ट की सुनहरी झलक गुलाबी नगरी के कला प्रेमियों को देखने को मिलेगी। फेस्टिवल में देशभर की 26 से अधिक यूनिवर्सिटी के कला विभाग के विद्यार्थी हिस्सा लेंगे। जयपुर के वरिष्ठ कलाकारों ने पिंक फेस्ट के पोस्टर का विमोचन किया।

इंटरनेशनल लेवल की एग्जीबिशन

फेस्टिवल के अंतर्गत प्रसिद्ध कलाकार धर्मेंद्र राठौड़ के क्यूरेशन में इंटरनेशनल लेवल के 100 से अधिक आर्टिस्ट की पेंटिंग्स एग्जीबिट की जाएंगी। प्रदर्शनी में ब्राजील, नार्वे, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड आदि देशों के ख्यात कलाकारों और जगन्नाथ पांडा, कंचन चंद्रा, संगीता गुप्ता, सुनील विश्वकर्मा, श्रीधर अय्यर, अंकित पटेल आदि राष्ट्रस्तरीय कलाकारों का हुनर देखने को मिलेगा।

हेरिटेज, आर्ट और आर्किटेक्ट पर टॉक

हेरिटेज, आर्ट और आर्किटेक्ट के गहन पहलुओं से रूबरू करवाने के लिए एक्सपर्ट्स के टॉक सेशन होंगे। इनमें नर्मदा प्रसाद उपाध्याय, हेमन्त शेष, नन्द भारद्वाज, धर्मेन्द्र नाथ ओझा, रवि शेखर, रेणुका राठौड़, डॉ. दयाशंकर तिवारी, आलोक पराड़कर, प्रमोद शर्मा आदि विशेषज्ञ अपने विचार रखेंगे।

कॉम्पिटिशन और कल्चरल परफॉर्मेंस

पिंक फेस्ट के फाउंडर डायरेक्टर सत्यजीत तालुकदार ने बताया कि युवाओं को रचनात्मकता से जोड़ने के लिए स्क्रिप्ट राइटिंग, स्लोगन राइटिंग, फोटोग्राफी, बेस्ट डिजाइन डिस्प्ले, पोस्टर और स्कैच मेकिंग कॉम्पिटिशन होंगे। संयोजक श्वेता चौधरी ने बताया कि फेस्ट में रंगमंच, शास्त्रीय और लोक विधाओं से जुड़ी प्रस्तुतियां भी होंगी। रचनात्मक रंगों से सराबोर पिंक फेस्ट में भवानी शंकर शर्मा और प्रो. चिन्मय मेहता मेंटर की भूमिका निभा रहे हैं।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles