“पधारो म्हारे देश का पोस्टर लॉन्च: 27 – 8 सितंबर को गुलाबी नगरी में होगा शिखर सम्मेलन

जयपुर। भारत के सांस्कृतिक मूल्यों और पर्यटन विकास को बढ़ावा देने के उद्देश्य से नार्ली ट्रूप ग्लोबल फेडरेशन की और से “पधारो म्हारे देश” शिखर सम्मेलन आयोजित किया जाएगा। विश्व पर्यटन दिवस पर 27 और 28 सितंबर को गुलाबी नगरी जयपुर में होने वाले दो दिवसीय कार्यक्रम का गुरुवार को पोस्टर लॉन्च डॉ. आचार्य लवभूषण ने किया। इस मौके पर फेडरेशन के संस्थापक अमरजीत नारली, सांस्कृतिक सचिव डॉ मनीषा सिंह और जयश्री खंगारोत मौजूद रही ।

नार्ली ट्रूप ग्लोबल फेडरेशन की सांस्कृतिक सचिव डॉ मनीषा सिंह ने बताया कि नार्ली ट्रूप अंतर्राष्ट्रीय गैर-लाभकारी संगठन का दृष्टिकोण 4C’ यानी जलवायु, समुदाय, संस्कृति और सहयोग पर आधारित है। नारली ट्रूप ग्लोबल फेडरेशन के तहत 12 मार्च, 2024 को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से “पधारो म्हारे देश-भारत” अभियान का शुभारंभ किया गया है। इस दो दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का मुख्य आयोजन 27 सितंबर, 2024 (विश्व पर्यटन दिवस) – 28 सितंबर, 2024 जयपुर में किया जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उद्घाटन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया जाएगा, साथ ही भारत में विभिन्न देशों के दूतावासों के राजदूतों, भारत के सभी राज्यों के सांस्कृतिक और पर्यटन मंत्रियों, कॉर्पोरेट घरानों के सीईओ और अंतर्राष्ट्रीय स्कूल प्रबंधन को “पधारो म्हारो देश भारत” अभियान का हिस्सा बनने के लिए आमंत्रित किया जा रहा है।

नार्ली ट्रूप के संस्थापक अमरजीत नारली ने बताया कि इस अभियान का मुख्य उद्देश्य भारत के समृद्ध गौरवशाली इतिहास एवं प्राचीनतम ऐतिहासिक धरोहर संरक्षण , भारतीय परंपराएं, रीति रिवाज, खान-पान, वेशभूषा, भारतीय संगीत, नृत्य, शास्त्र , आयुर्वेद पद्धति, कला एवं कौशल के साथ साथ भारत के आध्यात्मिक और सांस्कृतिक दृष्टिकोण से संपूर्ण विश्व को सराबोर करना है। नार्ली ट्रूप ग्लोबल फेडरेशन की यह पहल विश्व मे भारत की ओर से एकता और शांति का संदेश देगी।

नार्ली ट्रूप के जयश्री खंगारोत ने बताया कि इस संबंध में उपमुख्यमंत्री दीया कुमारी (राजस्थान सरकार) जी से राष्ट्रीय सांस्कृतिक संवर्धन बातचीत की गई है । उन्होंने घोषणा की कि सद्गुरु रितेश्वर जी महाराज को मुख्य संरक्षक, एवं गोपिका श्री को इस अभियान के राजदूत बनाया गया है जबकि डॉ. आचार्य लवभूषण जी को नार्ली ट्रूप ग्लोबल फेडरेशन से बड़ी जिम्मेदारी मिली है इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए डॉ. शिल्पी सिंह शेखावत, डॉ. भास्कर स्वामी, वैदिक यादव, अरुण कुमार नायर एवं कुलदीप सिंह इस महान पहल की गति का हिस्सा रहेंगे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles