सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांडः राजस्थान में पन्द्रह जगहों पर एनआईए ने की छापेमारी

जयपुर। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) टीम ने बुधवार सुबह श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड मामले में राजस्थान और हरियाणा में 31 जगहों पर छापेमारी कर रही है। बताया जा रहा है कि शूटर नितिन फौजी और रोहित राठौर से मिली अहम जानकारी के बाद एनआईए की टीम हरियाणा और राजस्थान में छापेमारी कर रही है। इस छापेमारी के दौरान एनआईए की टीम को अहम सबूत मिलने की उम्मीद है। जानकारी के अनुसार एनआईए की टीम ने सुखदेव सिंह गोगमेड़ी हत्याकांड मामले में महेंद्रगढ़ के दौंगड़ा जाट, गुढ़ा, पाथेड़ा और खुडाना गांव सहित रेवाड़ी के गांव भाडोर में भी छापेमारी की है। इस दौरान आस-पास के क्षेत्र में सुरक्षा के कड़े इंतजाम नज़र आए।

एनआईए की टीम रेवाड़ी जिले के गांव भाडोर में नीरज के घर और रेवाड़ी के ही सती कॉलोनी में महेश सैनी के घर पहुंची। जहां रेवाड़ी जिले का रहने वाला नीरज लॉरेंस बिश्नोई गैंग से जुड़ा हुआ है। बताया जा रहा है कि एनआईए की कई घंटे चली जांच में कुछ पुख्ता सबूत भी मिले हैं। एनआईए की छापेमारी के दौरान टीम के पांच सदस्य मौजूद रहे। वहीं महेश सैनी की बात करें तो उस पर रेवाड़ी और आसपास के जिलों में तीस से ज्यादा संगीन मामले दर्ज हैं। कुछ समय पहले ही तत्कालीन एडिशनल सेशल जज डॉ. सुशील कुमार गर्ग की कोर्ट ने उस पर सख्त रुख अख्तियार करते हुए उसकी प्रॉपर्टी अटैच करा दी थी। महेश सैनी लंबे समय से फरार चल रहा है। कोर्ट उसे भगोड़ा घोषित कर चुकी है। करीब 7 घंटे तक जांच एजेंसी की टीम ने महेश सैनी के सत्ती कॉलोनी स्थित घर पर छानबीन की है।

राजस्थान में पन्द्रह से ज्यादा ठिकानों पर एनआईए की टीम ने छापेमारी की है। जहां जयपुर के खातीपुरा स्थित सुंदर नगर में शूटर रोहित राठौड़ के घर भी एनआईए की एक टीम पहुंची और सर्च की कार्रवाई को अंजाम दिया। फिलहाल आधिकारिक रूप से इस कार्रवाई को लेकर एनआईए ने कोई बयान जारी नहीं किया है। इसके साथ ही दोनों शूटर्स के संपर्कों को भी बारीकी से खंगाला जा रहा है। दोनों से लगातार बातचीत करने वाले उनके दोस्त और अन्य लोग भी एनआईए के राडार में हैं। ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि एनआईए आगामी दिनों में इस हत्याकांड से जुड़े कुछ और नामों का खुलासा करते हुए उन्हें गिरफ्तार कर सकती है। हालांकि फिलहाल यह साफ नहीं हो पाया है कि छापेमारी में क्या सबूत एनआईए के हाथ लगे हैं। जानकारी के अनुसार नितिन फौजी के सहयोगियों के घर भी छापेमारी हुई है। अधिकारियों को उम्मीद है कि हत्याकांड के पीछे कुछ और लोग भी हैं, जो जांच के दौरान सामने आए हैं। इन दोनों शूटरों का प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से उन लोगों के साथ संपर्क रहा है। जानकारी के अनुसार एनआईए के पास में एक दूसरी स्टोरी है,जो इस हत्याकांड में कई चौंकाने वाले खुलासे कर सकती है।

हथियारों की सप्लाई में लिप्त बिश्नोई गैंग के एक गुर्गा राजस्थान के पिलानी से गिरफ्तार

जानकारी के अनुसार एनआईए,डीएसटी, चेन्नई और दिल्ली पुलिस की टीम ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए अवैध हथियारों की सप्लाई में लिप्त लॉरेंस बिश्नोई गैंग के एक गुर्गे को राजस्थान के पिलानी से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपी का नाम अशोक मेघवाल बताया जा रहा है, जिसे उसके गांव झेरली से पकड़ा गया है। आरोपी के पास से आठ हथियार जब्त किए गए हैं। पुलिस सूत्रों के अनुसार तीस से ज्यादा हथियार आरोपी सप्लाई कर चुका है। पुलिस आरोपी अशोक से मामले को लेकर पूछताछ कर रही है।

गोगामेड़ी को गोली मारने वाले शूटर रोहित राठौड़ का घर सीज

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के मामले में बुधवार सुबह एनआईए की टीम मकराना पहुंची। टीम ने मकराना पुलिस के साथ जूसरी गांव जाकर गोगामेड़ी की हत्या के आरोपी शूटर रोहित राठौड़ के घर की तलाशी ली और फिर आसपास के लोगों से भी पूछताछ की। इसके बाद घर को सील कर दिया। रोहित और उसका परिवार पिछले तीस सालों से जयपुर में ही रह रहा था। जानकारी के अनुसार राजस्थान में तीन जिलों में एनआईए कार्रवाई हुई। इसमें कुछ बड़े नाम भी हैं, जिनके यहां पर टीमें पहुंची है। वहीं जयपुर में कार्रवाई दौरान एनआईए की टीम ने शूटर रोहित राठौड़ की मां और बहन से भी पूछताछ की है। जयपुर के साथ टोंक में भी एनआईए की टीम पहुंची। यहां एक और आरोपी पूजा सैनी के परिजनों से पूछताछ की गई। इसके अलावा झुंझुनूं में ईडी की टीम पहुंची।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles