रामलला के प्राण-प्रतिष्ठा महोत्सव के दिन गाय के गोबर से बने दीपकों से रोशन होंगे मंदिर

जयपुर। अयोध्या में प्रस्तावित रामलला के प्राण-प्रतिष्ठा महोत्सव बाईस जनवरी को जहां देशभर में उत्साह का माहौल है। वहीं राजस्थान में भी इस आयोजन को लेकर सरकारी व गैर सरकारी स्तर पर तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। प्रदेश में इस दिन सार्वजनिक अवकाश घोषित करने की उम्मीद है। वहीं स्थानीय निकायों ने भी अपने स्तर पर इस महोत्सव को ऐतिहासिक बनाने की तैयारी कर ली है।

इसी के तहत देवस्थान विभाग की ओर से राज्यभर के समस्त राजकीय मंदिरों में विशेष सजावट सहित अनेक गतिविधियां आयोजित की जाएंगी। देवस्थान विभाग के कैबिनेट मंत्री जोराराम कुमावत ने बताया कि इस दिन अयोध्या में आयोजित कार्यक्रम का सभी मंदिरों में लाइव प्रसारण होगा। इसके अलावा मंदिरों में खासकर गाय के गोबर से बने दीपकों से रोशनी की जाएगी। वहीं, मंदिरों में सत्संग, सुंदरकांड या हनुमान चालीसा के पाठ होंगे। साथ ही महाआरती व देवी-देवताओं के मूर्तियों का श्रृंगार किया जाएगा। आरती के पश्चात प्रसाद का वितरण होगा।

कैबिनेट मंत्री जोराराम कुमावत ने बताया कि अयोध्या के महोत्सव को लेकर मंदिरों के बाहर होर्डिंग्स लगाए जाएंगे। इन सब कार्यों के लिए देवस्थान विभाग की ओर से बजट आवंटित किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी जिला कलेक्टर्स को इस संबंध में देवस्थान विभाग के शासन उप सचिव अनिल कुमार शर्मा ने राजकीय व अराजकीय मंदिरों में उक्त व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए गए हैं।

निजी मंदिरों में निकायों और पंचायतों को व्यवस्था करने के निर्देश

शहरों में पंचायत स्तर पर स्थानीय निकाय और पंचायती राज संस्थाओं को निजी मंदिरों में ये व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं, जबकि जिला मुख्यालय पर बने राजकीय मंदिरों में देवस्थान विभाग और बड़े निजी मंदिरों में उपखंड अधिकारी या कलेक्टर स्तर पर व्यवस्था करवाने के निर्देश दिए हैं।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles