परीक्षाओं में डमी कैडिडेंट बनकर बैठने वाला थर्ड ग्रेड टीचर गिरफ्तार

जयपुर। स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) ने बुधवार को पच्चीस से ज्यादा परीक्षाओं में डमी कैंडिडेट बनकर बैठने वाले सरकारी टीचर को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में आरोपी रोशन लाल मीणा ने डमी कैंडिडेट के रूप में बैठने की बात कबूली है।

डीआईजी परिस देशमुख ने बताया कि दौसा निवासी सरकारी टीचर रोशन लाल मीणा साल 2017 से सरकारी टीचर है। फिलहाल सरकारी अंग्रेजी मीडियम स्कूल, प्यारीवास (दौसा) में थर्ड ग्रेड टीचर हैं। वह राज्य सरकार की 16 और भारत सरकार की 4 परीक्षा में बैठा है। सरकारी टीचर लगने से पहले से वह डमी कैंडिडेट बनकर परीक्षा में बैठता रहा है। राजस्थान पुलिस की आईबी यूनिट में तैनात साल 2018 बैच के एसआई मनीष मीणा, उसके सगे भाई दिनेश मीणा के लिए भी आरोपी ने डमी कैंडिडेट के रूप में परीक्षा दी थी। दिनेश मीणा अभी एलडीसी के पद पर तैनात हैं।

रोशन मीणा ने साल 2021 में भी मनीष मीणा के भाई दीपक मीणा के लिए एसआई भर्ती परीक्षा डमी कैंडिडेट के रूप में दी थी। दीपक मीणा लिखित परीक्षा में पास हो गया, लेकिन फिजिकल में फेल हो गया था। रोशन लाल मीणा ने पुलिस को 6 लोगों की जानकारी दी है, जिनके लिए उसने डमी कैंडिडेट बनकर परीक्षा दी थी। इनमें से 5 लोग मौजूदा समय में सरकारी नौकरी कर रहे हैं।

मनीष मीणा का मामा महेश मीणा के लिए भी आरोपी रोशन परीक्षा में बैठा था, महेश अभी दौसा में एलडीसी के पद पर तैनात है। एक और व्यक्ति है सागर मीणा, जिसके लिए आरोपी ने पटवारी भर्ती परीक्षा दी थी। रोशन मीणा अपने सगे भाई के लिए भी परीक्षा में बैठ चुका है, जो आज पटवारी है। अभी तक की जानकारी के अनुसार आरोपी 6 लोगों के लिए डमी कैंडिडेट के रूप में बैठा था, जिसमें से 5 सरकारी नौकरी में हैं।आरोपी रोशन मीणा वर्ष 2018 में एसआई मनीष मीणा के लिए न केवल परीक्षा में डमी कैंडिडेट के रूप में बैठा, बल्कि आरपीएससी में इंटरव्यू में भी बैठा था। एसओजी की इस कार्रवाई के बाद सभी आरोपी फरार हो गए हैं।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles