कॉस्मेटिक सामान के गोदाम में आग लगने से पांच मजदूर झुलसे

जयपुर। हरमाड़ा थाना इलाके में एक कॉस्टमेटिक सामान के गोदाम में सोमवार दोपहर को अचानक आग लग गई। आग की सूचना पर आधा दर्जन दमकल मौके पर पहुंची और करीब दो घंटे में आग पर काबू पाया। आग से मौके पर काम कर रहे पांच मजदूर झुलस गए। इनमें चार मजदूरों की हालात नाजुक बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि एक मजदूर सैनेटाइजर से हाथ साफ करने के बाद बीड़ी जला रहा था इससे आग लग गई।

आग लगने से वहां पर काम कर रहे पांच मजदूर फंस गए। सिविल डिफेंस की टीम ने मौके पर पहुंच कर आग में फंसे सभी मजदूरों को बाहर निकाला और दमकल की मदद से अस्पताल पहुंचाया। आग के कारण सभी मजदूर 30 से 40 प्रतिशत झुलस गए।

पुलिस के अनुसार बड़पीपली के पीछे एक्सपाईरी कॉस्टमेटिक सहित अन्य सामान का गोदाम बना हुआ है। यह गोदाम संसाद खान का बताया जा रहा है। दमकल को सूचना मिली थी कि बड़ पीपली के पीछे स्थित एक पुराने सामान के गोदाम में आग लगी है। इस सूचना पर पांच दमकल वीकेआई और एक चैंमू से मौके पर पहुंची और करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। फिलहाल आग से हुए नुकसान का पता नहीं चल पाया है। आग से हुए नुकसान का आंकलन किया जा रहा है।

थानाधिकारी दिलीप का कहना है कि यहां पर पुराने कॉस्मेटिक सामान के साथ कुरकुरे सहित अन्य खाने का पुराना सामान रखा गया था। इस सामान का यहां पर क्या उपयोग किया जा रहा था इसकी जांच की जा रही है। खाने के सामान का उपयोग कैटल फूड में करने भी बात सामने आ रही है।

एक्सपाईरी मॉल को किया जाता है नए रैपर में पैक

स्थानीय लोगों ने बताया कि गोदाम में पुराना स्क्रैप का माल रखा हुआ था। जो अवैध तरीके से चल रही थी। इसकी शिकायत कई बार हरमाड़ा थाना पुलिस की गई, लेकिन पुलिस ने कोई एक्शन नहीं लिया। यहां काम करने वाले एक मजदूर ने सैनेटाइजर से हाथ धोए। बीड़ी जलाई। इससे सैनेटाइजर ने आग पकड़ ली। लोगों का कहना है कि यहां पर एक्साईरी मॉल को जमा किया गया था। गोदाम में पुराने माल को नए रैपर में पैक कर सस्ते दामों पर बाजार में भेज दिया जाता है। फिलहाल पुलिस इस मामले की छानबीन की जा रही है।

दो घंटे की मशक्कत के बाद पांच मजदूरों को आग की चपेट से बाहर निकला

थानाधिकारी दिलीप ने बताया कि देखते ही देखते आग अन्य मजदूरों तक भी फैल गई। शोर शुरू हो गया। आग से बचने के लिए ये मजदूर फैक्ट्री के अंदर चले गए। आग ने विकराल रूप ले लिया। लोगों ने पुलिस और दमकल को सूचना दी। आग लगने की जानकारी मिलने पर टीमें मौके पर पहुंची। मौके पर पहुंची पुलिस टीम को पता चला कि कुछ मजदूर आग की चपेट में हैं। इस पर सिविल डिफेंस की टीम को मौके पर बुलाया गया। करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद पांच मजदूरों को आग की चपेट से बाहर निकला।

जिन्हें थानाधिकारी हरमाड़ा अपनी गाड़ी से कांवटिया अस्पताल लेकर गए। प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टरों ने मजदूरों को एसएमएस रैफर कर दिया। ये सभी मजदूर 30 से 40 प्रतिशत झुलस गए हैं। आग से यूपी में 22 वर्षीय सादन बेर पुत्र फयाद बेर, 19 वर्षीय निजामुद्दीन पुत्र सलीम दीन, 18 वर्षीय सन्नी पुत्र नरेश मौर्य, 37 वर्षीय संतोष पुत्र रामसेवक और 27 वर्षीय हीरालाल पुत्र मुन्शी मौर्य झुलसे गए।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles