दस दिन में दो हजार किलोमीटर की जीव-जागरण धर्म यात्रा

जयपुर। बाबा जयगुरूदेव महाराज केआध्यात्मिक उत्तराधिकारी परम संत उमाकांत महाराज ,उज्जैन के आश्रम के आदेशानुसार जयपुर संभाग की जीव जागरण धर्म यात्रा 9 फरवरी को जयपुर में स्थित ठिकरिया आश्रम से आरंभ होकर अनेक वाहनों से शाकाहार और नशामुक्त रहने का प्रचार –प्रसार करते हुए जयपुर शहर होते हुए दौसा,सवाईमाधोपुर ,करौली,धौलपुर,भरतपुर ,तिजारा,अलवर ,कोटपुतली से होते हुए रविवार को शाहपुरा पहुंची। जहां पर यात्रा का समापन हुआ। जयपुर संभाग से सैकड़ों श्रद्धालुओं ने लगातार 10 दिन लगभग 2 हजार किलोमीटर की जीव जागरण धर्म यात्रा निकाली ,जिसमें रोज 12 घंटे लोगों को शाकाहारी –सदाचारी और नशा मुक्त रहने के लिए प्रचार –प्रसार कर प्रेरित किया ।

यात्रा के समापन में करीब 40 से 50 कारे और 70 से 80 मोटरसाइकिल शामिल हुई ,जिनके द्वारा यात्रा के अंतिम पड़ाव शाहपुरा क्षेत्र में आगे वाले खराब समय से बचान के लिए शाकाहार और नशा मुक्त करने का संदेश दिया गया । शाहपुरा संगत ने यात्रा में शामिल लोगों पर फूल बरसाकर यात्रा का स्वागत किया । राजस्थान प्रांतीय जिम्मेदार वैद्या रामकरण शर्मा और जयपुर संगत के जिम्मेदार पं जगदीश शर्मा, बंशीधर जाट, जगदीश सैनी ,भंवर सिंह के साथ समस्त जयपुर संगत के सैकड़ों श्रद्धालुओं ने शिरकत की और सतसंग का आयोजन किया। सतसंग के बाद सभी प्रेमियों और आसपास के लोगों ने भंडारे का आयोजन किया। गौरतलब है कि बाबा उमाकांत महाराज के आदेश पर ऐसी जीव जागरण धर्म यात्राओं का आयोजन पूरे देश में किया जा रहा है। जिससे लोग आने वाली भयानक कुदरती आपदाओं और बीमारियों से खुद की रक्षा कर सकें ।

नुक्कड़ सभाएं करके दिया लोगों को संदेश

नशा मुक्ति और शाकाहारी बने रहने के लिए और यात्रा में आगे आने वाले खराब समय से बचने के लिए गांवों और जिला स्तर पर नुक्कड़ सभा करके ,लिखाई करके पर्चे बाटकर लाखों लोगों को शाकाहारी ,सदाचारी व नशा मुक्त रहने का संदेश दिया गया। हजारों लोगों ने शाकाहारी और नशा मुक्त रहने का संकल्प लिया।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles