कामदा एकादशी के साथ ग्रीष्म ऋतु शुरू, गोविंद देवजी मंदिर में चला चांदी का फव्वारा

जयपुर। नव संवत्सर की शुक्ल पक्ष की पहली एकादशी शुक्रवार को विभिन्न शुभ योग में मनाई गई। श्रद्धालुओं ने ठाकुरजी पूजा-अर्चना कर सफेद तिल अर्पित किए। आराध्य देव गोविंद देवजी मंदिर में महंत अंजन कुमार गोस्वामी के सान्निध्य में एकादशी पर फलों की झांकी सजाई गई। इससे पूर्व सुबह मंगला झांकी के बाद ठाकुर श्रीजी का पंचामृत अभिषेक किया गया। नवीन लाल नटवर वेश पोशाक धारण करवाई गई।

एकादशी से ग्रीष्म ऋतु शुरू हो गई है। ठाकुर श्रीजी का ठंडक के लिए चांदी के कमल की आकृति के फव्वारे की सेवा प्रारंभ कर दी गई है। मंगला झांकी में  भाजपा की जयपुर शहर से लोकसभा प्रत्याशी मंजू शर्मा ने राधा गोविंददेवजी दर्शन कर आशीर्वाद प्राप्त किया। वहीं, धूप झांकी में मुख्यमंत्री भजन लाल शर्मा ने सपरिवार ठाकुर श्री राधा गोविंददेवजी के दर्शन कर आशीर्वाद प्राप्त किया। मंदिर महंत अंजन कुमार गोस्वामी, प्रबंधक मानस गोस्वामी ने उनका दुपट्टा ओढ़ाकर और माल्यार्पण कर अभिनंदन किया।


सुभाष चौक पानो का दरीबा स्थित श्री सरस निकुंज में शुक संप्रदायाचार्य अलबेली माधुरी शरण महाराज के सान्निध्य में ठाकुर राधा सरस बिहारी सरकार का वेदोक्त मंत्रोच्चार के साथ अभिषेक किया गया। ऋतु पुष्पों से श्रृंगार कर एकादशी के पदों का गायन किया जाएगा। विभिन्न प्रकार के फलों का भोग लगाया गया। पुरानी बस्ती स्थित गोपीनाथ जी मंदिर में महंत सिद्धार्थ गोस्वामी, चौड़ा रास्ता के राधा दामोदर जी मंदिर में महंत मलय गोस्वामी, रामगंज के लाड़लीजी मंदिर में महंत संजय गोस्वामी  के सान्निध्य में एकादशी पर ठाकुरजी की विशेष झांकी के दर्शन हुए। चांदनी चौक स्थित आनंद कृष्ण बिहारी, जगतपुरा के श्री कृष्ण बलराम मंदिर में एकादशी पर विशेष आयोजन हुए।


श्रद्धालुओं ने किया अखंड जप:

गायत्री महिला मंडल  करधनी की ओर से एकादशी पर गायत्री महामंत्र का जप किया गया।  प्रभारी कुसुमलता सिंघल ने बताया कि साठ से अधिक साधकों ने सबके उज्जवल भविष्य की कामना के साथ गायत्री मंत्र का जाप किया। हरिओम जन सेवा समिति की ओर से विद्याधरनगर में जरुरतमंद परिवारों को दूध का वितरण किया गया।


श्याम मंदिरों में जली अखंड ज्योत:

एकादशी को खाटू श्याम मंदिरों में विशेष पूजा-अर्चना हुई। श्याम प्रभु का अभिषेक कर फूलों से विशेष श्रृंगार किया किया गया। अखंड ज्योत प्रज्जवलित कर आरती की गई। उसके बाद भोग प्रसादी के साथ भजन संध्या का आयोजन हुआ। कांवटियो का खुर्रा रामगंज बाजार स्थित प्राचीन श्याम मंदिर में महंत पं. लाकेश मिश्रा के सान्निध्य में श्याम प्रभु का विशेष श्रृंगार किया गया। महिला मंडल की ओर से भजनों की प्रस्तुतियां दी गईं। सीकर रोड विजयबाड़ी पथ नंबर सात स्थित श्री श्याम मंदिर में दिन भर भक्तों का तांता लगा रहा। शाम को भजन संध्या का आयोजन हुआ। वीकेआई रोड नंबर पांच स्थित श्याम मंदिर में बड़ी संख्या में श्रद्धालु धोक देने पहुंचे। जगतपुरा, शास्त्रीनगर, मानसरोवर सहित अन्य श्याम मंदिरों में एकादशी पर भक्तों की भीड़ रही।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles