व्यापारी की आंखों में मिर्च झोंककर 33 लूटने वाले तीन बदमाश गिरफ्तार

जयपुर। विद्याधर नगर थाना इलाके में बिजनेसमैन की आंखों में मिर्च पाउडर झोंककर 33 लाख रुपए लूट के मामले में पुलिस ने गैंग के तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने गैंग के बदमाशों से लूट के 10 लाख रुपए बरामद किए है। फरार मास्टरमाइंड सहित अन्य बदमाशों की पुलिस तलाश कर रही है।

डीसीपी उत्तर राशि डोगरा ने बताया कि लूट के मामले में आरोपी सुनील महावर (28) निवासी आंधी जमवारामगढ़, मनोज कुमार कुमावत (25) निवासी भैसावा जोबनेर और कर्मवीर मीणा (24) निवासी मनोहरपुर जयपुर ग्रामीण को गिरफ्तार किया। मामले में फरार मास्टर माइंड संदीप सिंह, लोकेन्द्र उर्फ लौकी और विकास योगी की पुलिस टीम तलाश कर रही है। पुलिस ने आरोपी सुनील के कब्जे से 3 लाख, मनोज से 2 लाख और कर्मवीर मीणा से 5 लाख रुपए बरामद किए है। पुलिस पूछताछ में सामने आया कि बदमाशों ने कैफे में बैठकर प्री-प्लानिंग कर लूट की वारदात करने के लिए अलग-अलग टास्क देकर भेजते थे।

थानाधिकारी राकेश ख्यालिया और डीएसटी प्रभारी सीआई दिलीप सोनी ने नेतृत्व में टीम का गठन किया गया। कॉन्स्टेबल श्यामलाल के अहम रोल के चलते बदमाशों तक पहुंचना आसान हो गया। पुलिस जांच में सामने आया धनश्री टावर में आशीष पेडवाली का ऑफिस है। लूट के शिकार गर्व खण्डेलवाल काफी समय से आशीष पेडवाली से रुपयों की लेनदेन करने आता रहता है। आशीष पेडीवाल के बिजनेस की जानकारी रखने वाले संदीप सिंह ने लूट का प्लान बनाया। संदीप ने प्लानिंग के तहत सबसे पहले आशीष पेडीवाल के वर्कर सुनील महावर को लूट की कुछ रकम देने का लालच देकर जानकारी देने के लिए तैयार किया।

उसके बाद संदीप सिंह ने पुराने परिचित कर्मवीर मीणा, मनोज कुमार कुमावत, लोकेन्द्र उर्फ लौकी और विकास योगी से कॉन्टैक्ट किया। मास्टर माइंड संदीप सिंह ने सभी को मिलने के लिए अपने विद्याधर नगर स्थित टिकटॉक कैफे बुलाया। सभी को अलग-अलग टास्क देकर भेजा गया। टास्क के अनुसार कर्मवीर का काम बैग छिनना, विकास योगी का आंखों में मिर्च पाउडर डालने और मनोज कुमार कुमावत का बाइक चलाने साथियों को लेकर भागने का था। लूट के लिए तैयार कर सभी को विद्याधर नगर के आस-पास रहने के लिए कहा गया।


झोटवाड़ा में बांटी लूट की रकम

प्लानिंग के तहत आंखों में मिर्च पाउडर डालकर गर्व खण्डेलवाल से 33 लाख रुपए का बैग छीनकर तीनों बदमाश बाइक से फरार हो गए। बाइक से तीनों मनोज के झोटवाड़ा स्थित कमरे पर पहुंचे। मास्टर माइंड संदीप सिंह के कमरे पर आने के बाद सुनील, संदीप, लोकेन्द्र, कर्मवीर, विकास और मनोज में रकम आपस में बांटी। अधिकांश हिस्सा मास्टर माइंड संदीप ने अपने पास रख लिया। लूट की रकम लेकर सभी अलग-अलग जगह फरारी काटने चले गए। गौरतलब है कि विश्वकर्मा में मेटल फैक्ट्री के ऑनर गर्व खण्डेलवाल (23) के साथ लूट की वारदात हुई थी। 1 मार्च की शाम करीब 5 बजे वह धनश्री टावर में परिचित के पास पेमेंट लेने आए थे। बैग में 33 लाख रुपए लेकर जाते समय पैदल आए दो बदमाशों ने पीछे से बैग छीनकर उनकी आंखों में मिर्च पाउडर झांक दिया था। दर्द से चिल्लाने के दौरान बैग लेकर बदमाश अपने बाइक सवार साथी के साथ फरार हो गए थे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles