July 16, 2024, 5:38 am
spot_imgspot_img

शंखनाद के साथ बहन सुभद्रा के साथ रथ में विराजमान हुए जगन्नाथ जी महाराज

जयपुर। श्री गिरिधारी दाऊजी मंदिर,इस्कॉन जयपुर अध्यक्ष पंचरतन दास के सानिध्य में मंगलवार को इस्कॉन जयपुर के द्वारा श्री जगन्नाथ रथ यात्रा का केडीया पैलेस चौराहा, मुरलीपुरा स्कीम, सीकर रोड से आयोजन किया गया। दोपहर 4 बजे भगवान श्री जगन्नाथ उनके भाई भगवान बलदेव और बहन सुभद्रा महारानी को शंखनाद करके रथ पर विराजमान किया गया। भगवान का रथ पूरी तर्ज पर देशी व विदेशी फूलो से सजा हुआ था।

वृंदावन से आई पोशाक की धारण, आकर्षण सोने-चांदी के आभूषण किए धारण

रथ यात्रा के दौरान भगवान ने वृंदावन से आई नूतन पोशाक धारण की हुई थी। भगवान जगन्नाथ बलदेव सुभद्रा महारानी ने आकर्षक सोने व चाँदी के आभूषण धारण के साथ देशी व विदेशी फूलों का श्रृंगार भी धारण किया हुआ था । साथ ही रथ के गर्भगृह के बाहर इस्कॉन के संस्थापक आचार्य ए.सी भक्तिवेदांत स्वामी श्रील प्रभुपाद का विग्रह भी विराजमान था। रथ पर पुजारी के द्वारा भगवान को छप्पन भोग व अनेकों व्यंजनों का भोग धराया गया।

जयपुर सांसद ने की भगवान जगन्नाथ जी प्रथम आरती

कार्यक्रम की मुख्य अतिथि जयपुर शहर सांसद मंजु शर्मा ने भगवान की रथ पर प्रथम आरती उतारी साथ ही साथ कार्यक्रम अध्यक्ष प्रयटन विभाग के सह निदेशक राजेश शर्मा ने रथ के आगे सड़क पर स्वर्णमय झाडू से सफाई की । जिसके दोनों अतिथियों ने रथ को खेचकर रवाना किया । इस अवसर पर इस्कॉन जयपुर परिचालन समिति के चेयरमैन ज्योति कुमार माहेश्वरी , वाइस चैरमन सुरेश कुमार पोद्दार, आईसी अग्रवाल , जयपुर शहर के प्रमुख उद्योगपति व समाजसेवी ओम प्रकाश मोदी, आर.सी. गुप्ता, संजय साबू ,मधुसूदन फतेहपुरिया व व्यापार मंडलों के अध्यक्ष व क्षेत्र के नगर निगम पार्षद भी उपस्थित रहे । इस्कॉन के देशी व विदेशी भक्तों द्वारा यात्रा मार्ग पर हरिनाम संकीर्तन व जय जगन्नाथ का कीर्तन किया । इस अवसर पर हजारों भक्तों ने रथ को खेचा व दर्शन किया।

इन मार्गों से होकर गुजरी भगवान की रथयात्रा

भगवान जगन्नाथ जी की रथयात्रा केडिया पैलेस चौराहा से माताजी मंदिर ,प्रताप नगर चौराहा, वी मार्ट सर्कल यात्रा ,सीकर रोड न -1, सीकर रोड न -2 ,लाल डब्बा चौराहा ,मुरलीपुरा स्कीम सर्किल से होते हुए केडिया पैलेस चौराहा पर रथ यात्रा का समापन हुआ । रास्ते में जगह जगह व्यापार मंडलो के द्वारा रथ का स्वागत किया गया । समाप्ती के पश्चात सभी ने भोजन प्रसाद का आनंद लिया।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

25,000FansLike
15,000FollowersFollow
100,000SubscribersSubscribe

Amazon shopping

- Advertisement -

Latest Articles